October 5, 2022

रानीखेत :गोल्फ मैदान बंद होने से सैलानी निराश,
पर्यटन व्यवासाय प्रभावित

 2,712 total views,  2 views today

रानीखेत:  पर्यटन नगरी रानीखेत में सैलानियों का प्रमुख आकर्षण विश्व प्रसिद्ध गोल्फ मैदान पिछले डेढ़ साल से भी अधिक समय से बंद है। सेना ने पूरे मैदान में तारबाड़ करने के साथ मैदान को सैलानियों समेत आम जनता के लिए पूर्णतया बंद किया हैं। नगर के इस प्रमुख आकर्षण, विश्व प्रसिद्ध पर्यटन केंद्र को देखने पूरे साल देश-विदेश से सैलानी रानीखेत आते हैं।

एशिया का दूसरा सबसे बड़ा यह गोल्फ कोर्स सैलानियों की पहली पसंद रहा है

प्राकृतिक लिहाज से एशिया का दूसरा सबसे बड़ा यह गोल्फ कोर्स सैलानियों की पहली पसंद रहा है। नैसर्गिक सौंदर्य से लबरेज वृहद क्षेत्र में फैले इस मखमली घास के मैदान में साल भर सैलानियों का तांता लगा रहता था। वहीं, बड़ी संख्या में सैलानियों की आमद के चलते गोल्फ मैदान नगर के पर्यटन व्यवसाय की भी रीढ़ रहा हैं। इधर, कोरोना काल के बाद इस बार रानीखेत में पर्यटक सीजन जोरों पर है। बड़ी संख्या में देश-विदेश के सैलानी रानीखेत पहुंचे हैं, लेकिन रानीखेत के साथ गोल्फ मैदान के दीदार और यहां के प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने पहुंचे सैलानियों को निराश होकर वापस लौटना पड़ा रहा है। मैदान में प्रवेश प्रतिबंधित होने के कारण सैलानी लोहे की जालियों में कैद मैदान के बाहर से दर्शन कर बाहर से ही फोटो खिंचाकर वापस लौटने को मजबूर हैं, इससे सैलानियों में जहां भारी निराशा हो रही है, वहीं देश-विदेश में पर्यटन नगरी रानीखेत के संदर्भ में विपरीत संदेश भी प्रसारित हो रहा है।

व्यापार मंडल ने किया था ऐतिहासिक रानीखेत बंद

गोल्फ मैदान को सेना द्वारा बंद किए जाने के विरोध में तीन जनवरी 2021 में तत्कालीन नगर व्यापार मंडल ने ऐतिहासिक रानीखेत बंद किया था। तब व्यापार मंडल के तत्कालीन अध्यक्ष भगवंत सिंह नेगी के नेतृत्व में व्यापार मंडल के बंद को सभी संगठनों का पूर्ण समर्थन मिला था। इसके बाद सेना में भी हलचल मची थी, लेकिन इसके बाद अन्य किसी किसी संगठनों और जनप्रतिनिधियों ने गोल्फ को बंद किए जाने को लेकर आवाज नहीं उठाई।