October 4, 2022

रानीखेत:रानीखेत में साढ़े चार साल से बंद पड़ा पर्यटक कार्यालय फिर से खुला, विधायक डॉ प्रमोद नैनवाल ने किया उद्घाटन

 1,626 total views,  2 views today

पर्यटन नगरी रानीखेत में साढ़े चार साल से बंद पड़े टूरिस्ट कार्यालय का विधायक डॉ. प्रमोद नैनवाल ने पुन: उद्घाटन किया। विधायक ने जिला पर्यटन अधिकारी को स्टाफ की नियुक्ति कर कार्यालय को सुचारू रूप से संचालित करने के निर्देश दिए। इस मौके पर बैठक में रानीखेत में पर्यटन को बढ़ावा देने के उपायों पर भी गहन चर्चा हुई।

साढ़े चार साल पूर्व बंद हो गया था

रानीखेत का पर्यटक कार्यालय करीब साढ़े चार साल पूर्व बंद हो गया था। जिसके बाद से कार्यालय में ताला लटकने से रानीखेत सहित क्षेत्र में बड़ी संख्या में पहुंचने वाले सैलानियों को भारी असुविधाएं झेलनी पड़ रहीं थीं। देश-विदेश से रानीखेत सहित उपमंडल में आने वाले सैलानियों का कोई रिकॉर्ड भी पर्यटक विभाग नहीं रख पा रहा था। इधर, शनिवार को क्षेत्रीय विधायक डॉ. प्रमोद नैनवाल ने बंद टूरिस्ट कार्यालय का पुन: उद्घाटन किया। विधायक ने कहा कि उन्होंने इस संबंध में जिला पर्यटन अधिकारी से वार्ता कर पर्यटक कार्यालय को सुचारू रूप से संचालित करने और कर्मचारियों की स्थाई नियुक्ति करने को कहा था।

कार्यालय का नियमित संचालन करते हुए स्टाफ की व्यवस्था करने को कहा

विधायक डॉ. नैनवाल ने मौके पर पहुंचे जिला पर्यटन अधिकारी अमित कुमार लोहनी से वार्ता कर कार्यालय का नियमित संचालन करते हुए स्टाफ की व्यवस्था करने को कहा। इसके बाद विधायक सहित पर्यटन विभाग, व्यापार मंडल, छावनी परिषद व नागरिकों की संयुक्त बैठक में रानीखेत में पर्यटन को बढ़ावा देने पर गहन विचार-विमर्श हुआ। साथ ही नगर गोल्फ मैदान, चौबटिया गार्डन आदि प्रमुख पर्यटक स्थलों को सैलानियों से जोड़कर सैलानियों की आवाजाही बढ़ाने पर भी जोर दिया गया।

बैठक में उपस्थित रहे

बैठक में व्यापार मंडल अध्यक्ष मनीष चौधरी, कैंट बोर्ड सभासद मोहन नेगी, जिला पर्यटन अधिकारी अमित लोहनी, सीकेएस बिष्ट, खजान जोशी, छात्रसंघ अध्यक्ष मनीष भैसोड़ा, कविता भंडारी, प्रमोद रावत, अनंत भैसोड़ा, जदगीश सिंह बिष्ट, राजेंद्र बिष्ट आदि मौजूद रहे।