December 8, 2021

सस्ता गल्ला विक्रेता संघ ने उनकी मांग पूरी नहीं होने तक कोई भी सरकारी योजना का खाद्यान नहीं बांटने की दी चेतावनी

 2,574 total views,  2 views today

अल्मोड़ा: लंबित बिलों के भुगतान की मांग को लेकर सस्ता गल्ला विक्रेता संघ मुखर हो गया है। विक्रेताओं ने सरकार से पीएम खाद्यान्य योजना के तहत बांटे गये राशन के लंबित बिलों और चीनी का लांभाश दो सौ रुपये प्रति कुंटल करने की मांग की । मांग पूरी नहीं होने तक कोई सरकारी योजना का खाद्यान नहीं बांटने की चेतावनी दी।

13 जुलाई से विक्रेता सभी योजनाओं का राशन वितरण कार्यक्रम ठप कर देगा

गुरुवार को अल्मोड़ा सस्ता गल्ला विक्रेता संघ की ओर से नंदादेवी मंदिर में परिसर में बैठक आयोजित की गई। जिसमें सर्वसम्मति पर पीएम गरीब कल्याण खाद्यान्य योजना का राशन नहीं बांटने का निर्णय लिया गया। निर्णय लिया गया कि आगामी 12 जुलाई तक विक्रेताओं के बिलों का भुगतान नहीं किया जाता है तो, 13 जुलाई से विक्रेता सभी योजनाओं का राशन वितरण कार्यक्रम ठप कर देगा। इस दौरान बैठक में सदस्यों ने सरकार से विक्रेताओं को प्रतिमाह मानदेय के रूप में तीस हजार रुपये स्वीकृत किये जाने, राष्ट्रीय खाद्य योजना के तहत लाभांश दिये जाने कि मांग रखी गई। कहा कि जल्द मांगे पूरी नहीं होने पर खाद्यान्य वितरण बंद करने समेत उच्च न्यायालय की शरण ली जाएगी।

यह लोग रहे मौजूद

बैठक में दिनेश गोयल, मनोज वर्मा, अभय साह, विपिन तिवारी, नारायण सिंह, भूपाल सिंह, प्रकाश चंद्र भट्ट, प्रमोद पांडे, देवेंद्र चौहान, पान सिंह, गोपाल सिंह अधिकारी, मोहन भंडारी, भूपाल सिंह, गोविंद सिंह, सूरज सिंह, धन सिंह, आनंद कनवाल, संजय साह, उमेद सिंह, सुंदर भोजक, दिनेश जोशी, बच्ची सिंह, भुवन चंद्र तिवारी, प्रमोद कुमार, दिनेश जोशी, पूरन सिंह, दीपा भंडारी, संदीप आदि मौजूद रहे।