December 1, 2021

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का बच्चों पर नहीं होगा घातक असर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताई वजह

 1,447 total views,  2 views today

देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का कहर अभी पूरी तरह टला नहीं है। जिसके बाद विशेषज्ञों ने भी दावा किया है कि कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर दूसरी लहर से भी ज्यादा खतरनाक साबित होगी। जो बच्चों पर बुरा असर करेगी। जिससे जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है।

बच्चों को ज्यादा प्रभावित नहीं करती कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर-

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से भी बड़ा बयान सामने आया है। जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि कोरोना की लहर बच्चों को ज्यादा प्रभावित नहीं करती। जिन बच्चों को कोरोना होता है वो ज्यादातर असिमटोमैटिक होते हैं यानी उनमें इस संक्रमण के लक्षण बेहद ही कम होते हैं। जिससे बच्चों में खतरा कम होता है।

कम इम्यूनिटी होने पर अस्पताल में किया जाता है भर्ती-

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि अगर पूरी तरह से स्वस्थ बच्चों को यह संक्रमण होता भी है तो उनकी हल्की तबीयत खराब होती है और वो बिना अस्पताल गए जल्दी ठीक हो जाते हैं। वही कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान जिन बच्चों को अस्पताल में भर्ती करने की जरुरत पड़ी थी उन्हें इम्यूनिटी की ज्यादा कमी थी।

चाइल्ड केयर को देखते हुए हेल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने पर दिया जा रहा है ध्यान

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि चाइल्ड केयर को देखते हुए हेल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने पर ध्यान दिया जा रहा है। जिसमें संक्रमित होने वाले बच्चों के केयर और ट्रीटमेंट के लिए स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर करने का प्रयास जारी है। जिसमें तेजी लाई जा रही है। वही बच्चों के लिए वैक़्सीन का ट्रायल भी शुरू कर दिया गया है, जिसके बाद बच्चों को जल्द वैक़्सीन लगाई जाएगी।