November 29, 2021

भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने के लिए भारत के सामर्थ्य का सही इस्तेमाल जरूरी है -पीएम मोदी

 2,314 total views,  2 views today

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र में एक और पंक्ति जोड़ते हुए सब का प्रयास की बात कही। प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से 75वें स्वतंत्रता दिवस पर कहा कि संकल्प परिश्रम और पराक्रम की पराकाष्ठा बिना अधूरा रहता है।इस श्रद्धा के साथ सभी देशवासी जुड़े हुए हैं

सबका विश्वास और सब का प्रयास हमारे लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है

उन्होंने कहा, “सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास इसी श्रद्धा के साथ हम सब जुड़े हुए हैं। आज लाल किले से वह आहवान करते हैं कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सब का प्रयास हमारे लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।”

देश आज नए सिरे से स्वयं को परिभाषित कर रहा है

उन्होंने कहा कि देश की विकास यात्रा में एक नया समय आ गया है। देश आज नए सिरे से स्वयं को परिभाषित कर रहा है और नए संकल्पों के साथ आगे बढ़ रहा है। आज से शुरू होकर अगले 25 वर्षों की यात्रा भारत के सृजन का अमृत काल होगी। अमृत काल में हमारे संकल्प की सिद्धि आजादी के 100 वर्ष तक हमें ले जाएगी।

भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने के लिए भारत के सामर्थ्य का सही इस्तेमाल जरूरी

पीएम मोदी ने कहा  कि भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने के लिए भारत के सामर्थ्य का सही इस्तेमाल जरूरी है इसके लिए किसी भी वर्ग को क्षेत्र को पीछे नहीं रहने दिया जा सकता। हमें उनका हाथ पकड़ना होगा।

हमें अब सैचुरेशन की ओर बढ़ना होगा

पीएम मोदी ने कहा कि हमें अब सैचुरेशन की ओर बढ़ना होगा। इसका अर्थ है कि हर गांव में सड़क हो, हर परिवार का बैंक खाता हो, सभी के पास आयुष्मान भारत का कार्ड हो और सभी पात्र व्यक्तियों तक उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन पहुंचे।