June 30, 2022

उत्तराखंड: गुलेल से कार के शीशों को तोड़कर करते थे चोरी, तीन युवक गिरफ्तार

 588 total views,  2 views today

बेरोजगारी बढ़ने की वजह से दिन -प्रतिदिन चोरी डकैती और अन्य अपराधों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। कोरोना ने  कई लोगों से उनकी आय स्रोत तक छिना हैं । ऐसे में मजबूरन लोग गलत कार्यों की ओर अग्रसर हो रहे हैं । नशे आदि की लत से भी  राज्य में अपराध  बढ़ते जा रहे हैं । अब देहरादून से जुडी खबर सामने आयी है । जहां तीन युवकों ने काम न मिलने के चलते काम ढूढने की बजाय चोरी को चुनना बेहतर समझा । लेकिन  बसंत विहार पुलिस देहरादून ने इस गैंग का खुलासा कर दिया ।

देहरादून घूमने और यहाँ पर भी घटना करने की योजना बनाई

पुलिस द्वारा जब पूछताछ की गई तो अभियुक्तगणों (मनीष, महेंद्र और मोनू निवासी दिल्ली)   ने बताया कि हम तीनो आस पास ही रहते है, लॉकडाउन में हमारे पास कोई काम नही था तो हम तीनों ने मिलकर जल्दी पैसे कमाने की सोची और हम हमारे मोहल्ले के मोहित वालिया से मिले, जिसने हमे बताया कि बड़े- बड़े शहरों में लोग कार में कीमती सामान रखते है और सामान को कार में छोड़कर चले जाते है, जिसका शीशा तोड़कर उनमें रखा कीमती सामान चोरी करके उसको बेचकर अच्छा पैसा मिल जाता है, जिस पर हमें लालच आ गया और फिर हमने दिल्ली में कई जगह ऐसे घटनाये की, जिससे हमें ठीक ठाक पैसा मिला।  उसके बाद हमने पिछले महीने देहरादून घूमने और यहाँ पर भी घटना करने की योजना बनाई। योजना के मुताबिक पिछले महीने हम तीनों संदीप की कार, जिसे हम घटना में प्रयोग करते है, से देहरादून आये और फिर जब हम देहरादून में घूम रहे थे तो एक कार में बैग रखे दिखाई दिए, जिसका गुलेल से शीशा तोड़कर हमने बैग चोरी कर लिए थे। हमे कार से जो भी लेपटॉप या मोबाइल आदि समान मिलता है, उसे महेंद्र olx एवम अन्य लोगों को अच्छी कीमत में बेच देता है और फिर हम तीनों पैसा आपस में बांट लेते है। हमारे पास से 05 अन्य  लेपटॉप जो मिले है, वो भी हमने ऐसे ही कार का शीशा तोड़कर दिल्ली में अलग- अलग जगहों से चोरी किये थे,  जिन्हें हम बेचने के लिए जा रहे थे कि पकड़े गए।