July 6, 2022

श्री आदि केदारेश्वर मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद…उत्तराखंड टॉप टेन न्यूज़ (17 नवंबर)

Ukk

 1,269 total views,  2 views today

◆ श्यामा प्रसाद ग्लोबल मिशन के तहत रानीपोखरी ग्रांट में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने करीब 1 करोड़ 61 लाख की लागत से बने ‘उत्तरा स्टेट इम्पोरियम’ और 1 करोड़ 38 लाख की लागत से नवनिर्मित ‘ग्रामीण हाट बाज़ार’ का लोकार्पण किया।

◆ उत्तराखंड में अब आरटीओ के चेकपोस्ट पर वाहन नहीं रुकेंगे। परिवहन सचिव ने चेकपोस्ट को समाप्त करने के आदेश कर दिए हैं। यह व्यवस्था एक दिसंबर से लागू होगी।

◆ नैनीताल हाईकोर्ट :अदालत ने कहा कि पिछले 21 सालों में प्रदेश में जेलों के सुधार के नाम पर कुछ नहीं हुआ और प्रदेश की जेलों की स्थिति उत्तर प्रदेश और बिहार से भी बदतर है।

◆ श्रीदेव सुमन विवि के सहायक परीक्षा नियंत्रक पद पर कार्यरत डा. हेमन्त बिष्ट के खिलाफ कुलपति ने जांच बैठा दी है। उन पर विवि में अमर्यादित एवं अनुशासनहीन कार्यों का आरोप।

◆ वेतन विसंगति दूर न होने से नाराज स्वास्थ्य विभाग की नर्सों ने आंदोलन का ऐलान कर दिया है। इसके तहत 2005 बैच की नर्सेज 20 नवम्बर से सामूहिक अवकाश शुरू करेंगी।

◆ बदरीनाथ धाम में आज श्री आदि केदारेश्वर मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए।

◆ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देहरादून में 75 जन सेवाओं से युक्त ‘‘अपणि सरकार‘‘ पोर्टल और ‘‘उन्नति पोर्टल‘‘ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न जनपदों से जिन लोगों ने अपने प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाई, उनसे बात भी की और उनसे सुझाव भी लिए।

◆ केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने गढ़वाल रायफल रेजिमेंटल सेन्टर लैंसडाउन पहुँचकर युद्ध स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके साथ ही श्री भट्ट ने म्यूजियम सहित कुछ अन्य महत्वपूर्ण स्थानों का अवलोकन किया।

◆ कोविड वैक्सीनेशन के तहत चमोली में शतप्रतिशत लोगों को पहली डोज लगाई जा चुकी है। साथ ही दूसरी डोज में अभी तक 75.4 प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया गया है वहीं जनपद चमोली दूसरी डोज लगाने में पूरे राज्य में दूसरे स्थान पर है।

◆ मुख्यमंत्री धामी से पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने हाल ही में राज्य को पर्यटन के क्षेत्र में मिले पुरस्कारों के साथ भेंट की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य को पर्यटन के क्षेत्र में पुरस्कार मिलना राज्य के लिये गर्व की बात है। इससे राज्य की पर्यटन के क्षेत्र में नई पहचान भी बनेगी।