December 8, 2021

उत्तराखंड टॉप टेन न्यूज़(27 अगस्त,भाद्रपद ,कृष्ण पंचमी , वि.सं. 2078)

 5,808 total views,  2 views today

◆ राज्य सरकार पर्याप्त नगद राशि होने के बावजूद बेवजह बाजार से महंगी दरों पर लोन उठा रही है। कैग ने इसे गलत मानते हुए अपनी रिपोर्ट में कड़ी आपत्ति जताई ।

◆ मौसम विभाग ने नैनीताल, चम्पावत, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जिलों में शनिवार को कहीं कहीं तीव्र बौछार व भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया।

◆ उत्तराखंड में दो अधिकारियों को हरिद्वार के कुंभ मेले के दौरान फर्जी कोविड ​​​​-19 जांच घोटाले में शामिल होने के आरोप में निलंबित कर दिया गया।

◆ पुलिस विभाग के कोरोना वॉरियर्स के हितों का ध्यान रखते हुए कॉन्स्टेबल, हेड कॉन्स्टेबल, सब-इंस्पेक्टर्स एवं इंस्पेक्टर्स को उनके द्वारा COVID19 में किए जा रहे सराहनीय कार्यों एवं सेवाओं हेतु ₹10000 की एकमुश्त प्रोत्साहन राशि देने का निर्णय लिया है: मुख्यमंत्री।

◆ देहरादून-ऋषिकेश मार्ग पर रानीपोखरी में जाखन नदी पर बना पुल का एक हिस्सा भारी बारिश और पानी के तेज बहाव के ढह गया।

◆ भू-कानून समेत जमीनों से जुड़े कई मसलों पर पूर्व मुख्य सचिव सुभाष कुमार की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया।

◆ मुख्यमंत्री ने उच्च शिक्षा के सभी छात्रों को सरकार की ओर से मुफ्त टेबलेट उपलब्ध कराने, कैंट बोर्ड क्षेत्र में निवास करने वाले पूर्व सैनिकों के भवन कर का अन्य स्थानों की तर्ज पर निर्धारण करने की भी घोषणा की।

◆ देहरादून जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में नदी के बीचों-बीच फंसे कुल छह लोगों को पुलिस, एसडीआरएफ ने सकुशल रेस्क्यू कर लिया। थाना रायवाला पुलिस को आज सुबह चार लोगों के सौंग नदी में फंसे होने की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने रेस्क्यू करते हुए दो लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है।

◆ आज तड़के टिहरी जिले के नरेंद्रनगर ब्लॉक में फकोट और खाड़ी के बीच बेमुंडा के नजदीक ऋषिकेश-गंगोत्री नेशनल हाईवे का कई मीटर हिस्सा बह गया।

◆ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य के 200 राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में व्यावसायिक शिक्षा कार्यक्रम का किया शुभारंभ। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य के विभिन्न विद्यालयों के छात्र छात्राओं, अभिभावकों व अध्यापकों से वर्चुअल संवाद भी किया।

◆ उत्तराखंड विधानसभा सत्र के दौरान शुक्रवार को कांग्रेस विधायक गन्ना हाथ में लिए ट्रैक्टर चलाकर विधानसभा भवन पहुंचे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।