May 28, 2022

उत्तराखण्ड: केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रदेश के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर हालात का लिया जायजा

 1,500 total views,  2 views today

आज केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह  ने प्रदेश के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर हालात का जायजा लिया। इस दौरान उनके साथ राज्यपाल गुरमीत सिंह, , मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी,
, केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, , आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ० धन सिंह रावत,  व राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी भी मौजूद रहे । इसके बाद गृहमंत्री श्री शाह ने राज्य अतिथि गृह, जौलीग्रांट में उच्च स्तरीय बैठक कर प्रदेश में आपदा की स्थिति और संचालित राहत व बचाव कार्यों की समीक्षा की।

देवभूमि की हर सम्भव सहायता करेगी

गृहमंत्री  अमित शाह ने कहा कि केन्द्र सरकार देवभूमि की हर सम्भव सहायता करेगी। उन्होंने आपदाग्रस्त व जलभराव वाले क्षेत्रों में मेडिकल टीमें भेजी जाने एवं क्षतिग्रस्त बिजली लाइनों को जल्द से जल्द ठीक किए जाने के निर्देश दिए।

चारधाम यात्रियों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर रोक दिया गया है

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  और केंद्र से मिले सहयोग पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सेना, एनडीआरएफ, सीडब्ल्यूसी, बीआरओ के साथ मिलकर राज्य सरकार आपदा की तीव्रता को कम कर सकी। लोगों को अधिक से अधिक राहत पहुंचाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है । बैठक के बाद केंद्रीय गृह मंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि चारधाम यात्रियों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर रोक दिया गया है, इसी का परिणाम है कि अभी तक चारधाम यात्रियों में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

3500 लोगों को रेस्क्यू किया गया

उन्होंने कहा कि अभी तक 3500 लोगों को रेस्क्यू किया गया, जबकि 16 हजार लोगों को एहतियातन सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। एनडीआरएफ की 17 टीमें, एसडीआरएफ की 60 टीमें, पीएसी की 15 कम्पनियां और पुलिस के 5 हजार जवान आज भी बचाव व राहत में लगे हैं। जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी।गृहमंत्री श्री शाह ने कहा कि नुकसान का आकलन किया जा रहा है, वास्तविक नुकसान का आकलन पूरे सर्वे के बाद हो पाएगा। डिजास्टर फंड में उत्तराखण्ड को पहले से ही 250 करोड़ रूपए की राशि दी गई है।