December 8, 2021

विश्व शेर दिवस: भारत में शेरों की संख्याओं में पिछले कुछ सालों में इज़ाफ़ा हुआ

 1,662 total views,  2 views today

हर साल 10 अगस्त विश्व शेर दिवस के तौर पर मनाया जाता है। इसका उद्देश्य शेरों के शिकार को रोकने और उसके संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ाना है।

प्रधानमंत्री ने दिया अहम संदेश

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शेर संरक्षण के प्रति उत्साही सभी लोगों को बधाई दी है। साथ ही कहा कि देश को यह जानकर खुशी होगी कि भारत में शेरों की आबादी में पिछले कुछ साल में बढ़ी है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा,

शेर राजसी और साहसी होते हैं। भारत को एशियाई शेरों का घर होने पर गर्व है। विश्व शेर दिवस पर, मैं उन सभी को बधाई देता हूं जो शेर संरक्षण को लेकर गंभीर हैं। देश को यह जानकर खुशी होगी कि भारत में शेरों की आबादी में पिछले कुछ साल में बढ़ी है।

गुजरात में एशियाई शेरों की संख्या 674

वहीं ‘विश्व शेर दिवस’ के मौके पर केंद्रीय वन, पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव ने ट्वीट कर कहा कि आज के दिन गुजरात में इनके संरक्षण की सफल कहानी सभी को बताई जानी चाहिए। पिछले कुछ साल में गुजरात के 30,000 वर्ग किलोमीटर में 674 एशियाई शेर निवास करने लगे हैं। पिछले पांच साल में शेरों की संख्या में 29 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

वन विभाग के आंकड़ों के अनुसार साल 2015 में की गई गणना के दौरान यहां 523 एशियाई शेर थे। पांच साल में यहां 151 शेर बढ़े हैं और अब इनकी संख्या 674 हो गई है।