January 27, 2022

अल्मोड़ा: समिति के संस्थापक संयोजक बिट्टू कर्नाटक की अध्यक्षता में रामलीला के आयोजन एवं तैयारियों के संदर्भ में हुई बैठक

 2,355 total views,  2 views today

आज बिट्टू कर्नाटक संरक्षक /संस्थापक की अध्यक्षता में कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुये शासन के दिशा निर्देशानुसार निश्चित संख्या में श्री भुवनेश्वर महादेव मन्दिर एवं रामलीला समिति कर्नाटक खोला अल्मोडा की एक बैठक आयोजित की गयी।

रामलीला का वर्चुवल लाइव मंचन बैठक का मुख्य उद्देश्य-

कोरोना संक्रमण की सम्भावित तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखते हुये रामलीला का वर्चुअल लाइव मंचन बैठक का मुख्य उद्देश्य था, साथ ही बैठक में मुख्यतः वर्ष 2021 की रामलीला ,महिलाओं की तीन दिवसीय रामलीला,रामलीला समिति की कार्यप्रणाली तथा कोरोना प्रोटोकाल के अन्तर्गत रामलीला की तैयारियां एवं वर्चुअल/लाइव रामलीला प्रस्तुति के संदर्भ में विभिन्न वक्ताओं ने अपने विचार रखे ।

वर्चुअली लाइव अथवा तत्कालीन स्थिति के अनुसार रामलीला मैदान में दर्शकों के साथ किया जाएगा सजीव मंचन-

समिति के संस्थापक संयोजक बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि जिस प्रकार विगत वर्ष कर्नाटक खोला रामलीला वर्चुअली लाइव माध्यमों से देश-विदेश तक पहुंचायी गयी और इसकी भरपूर सराहना एवं प्रशंसा समिति को लगातार मिलती रही है । इसके लिये रामलीला समिति बधाई की पात्र है । उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौरान कर्नाटक खोला रामलीला ही एक मात्र ऐसी रामलीला थी जिसका मंचन किया गया । श्री कर्नाटक ने अपने सम्बोधन में कहा कि रामलीला आयोजन हमारी मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम के प्रति आस्था एवं सांस्कृतिक महत्व का विषय है । इसलिये वर्ष 2021 की रामलीला कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखकर वर्चुवली लाइव अथवा तत्कालीन स्थिति के अनुसार रामलीला मैदान में दर्शकों के साथ सजीव मंचन किया जायेगा जिसकी तैयारी अभी से प्रारम्भ की जायेगी । 

रामलीला मंचन के दौरान होगा कोरोना प्रोटोकाल का पालन-

समिति के संस्थापक संयोजक बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि तालीम तथा रामलीला मंचन के दौरान कोरोना प्रोटोकाल का पालन एवं सभी सदस्यों एवं कलाकारों के सुरक्षा हेतु समस्त व्यवस्थायें सुनिश्चित की जायेंगी साथ ही समस्त जरूरी उपकरण जैसे डोर सैनिटाईजर,सैनिटाइजिंग मशीन,पल्स आक्सीमीटर,थर्मल स्क्रीनिंग डिवाईस तथा आपातकाल हेतु आक्सीजन सिलेन्डर कन्सन्ट्रेटर एवं एक आइशोलेशन कक्ष आदि की व्यवस्था रामलीला परिसर में सुनिश्चित की जायेगी जो सुरक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है।

रामलीला मंचन के लिये अभी से प्रयासरत एवं प्रतिबद्व होना होगा-

समिति के संस्थापक संयोजक बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि विगत वर्ष की ऐतिहासिक वर्चुअल रामलीला मंचन के पश्चात रामलीला समिति की जिम्मेदारियां और भी बढ चुकी हैं और समिति को पिछले वर्षो से भी बेहतर रामलीला मंचन के लिये अभी से प्रयासरत एवं प्रतिबद्व होना होगा तथा गत वर्ष लिये गये निर्णय के अनुसार इस वर्ष तीन दिवसीय महिला रामलीला का आयोजन किये जाने हेतु इसकी सभी तैयारियां शीध्र पूर्ण करने को कहा । जिसमें सभा का संचालन महासचिव डा. करन कर्नाटक द्वारा किया गया ।

इस दौरान यह लोग रहे उपस्थित-

इस बैठक में समिति के संस्थापक संयोजक बिट्टू कर्नाटक, समिति के अध्यक्ष देबेन्द्र प्रसाद कर्नाटक, उपाध्यक्ष हेम चन्द्र जोशी, वरिष्ठ कोषाध्यक्ष डा.गिरीश चन्द्र जोशी,कोषाध्यक्ष मोहन चन्द्र कर्नाटक, सचिव गौरव काडंपाल, संचालन महासचिव डा. करन कर्नाटकरामलीला की महिला कार्यकारिणी की अध्यक्षा श्रीमती बन्दना जोशी, महासचिव सीमा कर्नाटक,उपाध्यक्ष कविता पाण्डे,संरक्षक डा.विद्या कर्नाटक के साथ अखिलेश सिंह थापा,एन.सी.जोशी,नवीन सिंह बिष्ट,गिरीश चन्द्र पाण्डे,गौरव अवस्थी,मनीष तिवारी, शुभम जोशी, पूजा बगडवाल, अंजलि राठौर,वृजेश पाण्डे, कंचन पाण्डे आदि उपस्थिति रहे ।