September 30, 2022

अल्मोड़ा: मेडिकल कॉलेज में बीपीएल कार्ड धारक को इलाज में हो रही है परेशानी.. बाहर से लेनी पड़ रही है दवा

 410 total views,  7 views today

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत बेस अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल है। अस्पताल के इंमरजेंसी में उपचार को पहुंचे बीपीएल कार्ड धारक मरीजों को भी बाजार से मंहगी दवा खरीदनी पड़ रही हैं। आलम यह है कि रविवार को अस्पताल में प्लास्टर चढ़ाने के लिए पहुंचे मरीजों को अस्पताल में दवा उपलब्ध नहीं हो सकी, मजबूरन मरीज को बाहर से महंगे दामों में दवा खरीदनी पड़ी।

मेडिकल कॉलेज के होते हुए महानगरों की लगानी पड़ रही है दौड़

लंबे इंतजार के बाद बीते जनवरी माह में मेडिकल कॉलेज को एनएमसी की मान्यता मिली। जिसके बाद अल्मोड़ा समेत पर्वतीय जिले के मरीजों को बेहतर उपचार की उम्मीद जगी। लेकिन संस्थानों और विशेषज्ञ डॉक्टरों के अभाव में अब भी मरीजों को बेहतर उपचार के लिए हल्द्वानी और महानगरों की दौड़ लगानी पड़ रही है। आलम यह है कि बीपीएल कार्ड धारकों तक के मरीजों को अस्पताल में निःशुल्क दवाएं नहीं मिल पा रही है।

दवा बाहर से खरीदने के चलते तीमारदारों ने काटा हंगामा

रविवार को सुयालबाड़ी से बेस अस्पताल में उपचार के लिए मरीज को साथ लेकर पहुंचे तीमारदार राहुल खोलिया ने कहा कि वो मरीज को प्लास्टर चढ़ाने के लिए अस्पताल लाए, आरोप लगाते हुए कहा कि अस्पताल के इंमरजेंसी में बैठे स्टाफ नर्स ने पहले रविवार होने के चलते बीपीएल कार्ड से उपचार के लिए मना कर दिया। जबकि दबाव पड़ने के बाद उपचार किया गया, लेकिन दवाएं बाजार से लानी पड़ी। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि यह कैसा मेडिकल कॉलेज है। जहां रविवार को बीपीएल कार्ड से उपचार नहीं मिलता है। इस दौरान मरीजों के तीमारदारों ने अस्पताल में जमकर हंगामा भी काटा।

स्टाफ और तीमारदार की काफी देर तक हुए बहस

बीपीएल कार्ड धारक को निशुल्क उपचार और दवाएं बाहर से लाने के बाद तीमारदारों में भारी आक्रोश देखने को मिला। इस दौरान काफी देर तक तीमारदार और स्टाफ की बहस हुई। जिसके बाद उपचार तो निःशुल्क मिल गया। लेकिन प्लास्टर चढ़ाने तक के लिए दवाएं।

बीपीएल कार्ड धारक को निःशुल्क उपचार देने से कर दिया मना- चंदन लटवाल, तीमारदार

रविवार को हम मरीज को लेकर बेस अस्पताल पहुंचे थे, लेकिन यहां इमरजेंसी में तैनात स्वास्थ्य कर्मियों ने बीपीएल कार्ड धारक को निःशुल्क उपचार देने से मना कर दिया।

रविवार को बीपीएल कार्ड धारकों को निःशुल्क उपचार की मिले सुविधा- अर्जुन सिंह नेगी, तीमारदार

मरीज बीपीएल कार्ड धारक था, हम रविवार को सुयालबाड़ी जिला नैनीताल से मरीज को बेस अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन स्वास्थ्य कर्मियों ने निःशुल्क उपचार से मना कर दिया। अस्पताल में रविवार को बीपीएल कार्ड धारकों को निःशुल्क उपचार की सुविधा मिलनी चाहिए।

जल्द ही लिया जाएगा संज्ञान- डॉ.अजय आर्या

डॉ. अजय आर्या, एमएस, बेस अस्पताल अल्मोड़ा ने कहा कि रविवार को भी अस्पताल में बीपीएल कार्ड धारकों को उपचार मिलता है। मामले की जानकारी मिली है, संज्ञान लिया जाएगा।