October 5, 2022

अल्मोड़ा: विलुप्त हो चुके जलाशयों को किया जाएगा संरक्षित, पहल शुरू

 445 total views,  2 views today

अल्मोड़ा में जल संरक्षण के लिए अब प्रशासन की ओर से विलुप्त हो चुके जलाशयों (छोटे तालाबों) को पुनर्जीवित करने की पहल की जाएगी। इसके लिए प्रशासन की ओर से खाका तैयार कर लिया गया हैं। हर ब्लॉक में तीन-तीन छोटे तालाबों को संरक्षित किया जाएगा।

विलुप्त जलाशयों को पुनर्जीवित करने को प्रशासन ने खाका किया तैयार

जिले में पूर्व में स्थापित कई जलाशय (छोटे तालाब) विलुप्त हो चुके हैं। वहीं अब इन विलुप्त हो चुके छोटे तालाबों को प्रशासन की ओर से पुनर्जीवित किए जाने का निर्णय लिया गया हैं।

हर ब्लॉक में तीन-तीन चयनित जलाशयों को किया जाएगा पुनर्जीवित

आजादी के अमृत महोत्सव में अमृत सरोवर योजना के तहत हर ब्लॉक में तीन-तीन जलाशयों को पुनर्जीवित किया जाएगा। इसके लिए प्रशासन की ओर से तैयारी हो चुकी है। वहीं प्रशासन की इस पहल से एक बार फिर विलुप्त हो चुके जलाशयों को नई पहचान मिल सकेगी। इससे की खासकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को काफी लाभ होगा।

जल स्रोत भी रिर्चाज होने की उम्मीद

विभागीय अधिकारियों ने बताया कि बरसात से पहले इस काम को पूरा किया जाएगा। इससे की बरसात के समय इन तालाबों में पानी एकत्र हो सके। वहीं तालाबों को पुनर्जीवित करने की योजना से कहीं ना कहीं जल स्रोत भी रिर्चाज होने की उम्मीद हैं।

विलुप्त हो चुके जलाशयों को पुनर्जीवित किया जाएगा

केएन तिवारी, डीडीओ अल्मोड़ा ने बताया कि विलुप्त हो चुके जलाशयों (छोटे तालाबों) को पुनर्जीवित किया जाएगा। डीएम के निर्देश के बाद इस पर काम शुरू कर दिया गया है। हर ब्लॉक में तीन-तीन जलाशयों को पुनर्जीवित करने का लक्ष्य है।