May 23, 2022

अल्मोड़ा: कोरोना काल में पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के जरूरतमंदों को लगातार पंहुचा रहे हैं खाद्य सामग्री, लोगों से भी कर रहे हैं अपील

 1,407 total views,  2 views today

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का प्रकोप जारी है।  जिससे लोगों को आर्थिक दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है, और गरीबों के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। वही ऐसे में पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के जरूरतमंदों को लगातार खाद्य सामग्री पहुंचा रहे हैं।

ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के जरूरतमंद परिवारों को दे रहे हैं आवश्यक सामग्री-

पूर्व दर्जा मंत्री एंव वरिष्ठ कांग्रेसी नेता बिट्टू कर्नाटक कोरोना काल में लगातार कोरोना और लॉकडाउन से प्रभावित ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के परिवारों को खाद्य एवं आवश्यक सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। जिसमें आज दिनांक 7 जून 2021 को बिट्टू कर्नाटक द्वारा हवालबाग विकासखंड के लटवाल गांव एवं ज्योली, खड़कूना आदि ग्रामीण क्षेत्रों में एवं नगर के विभिन्न मोहल्ले तथा रोडवेज वर्कशॉप के समीप जरुरतमंद परिवारों को सब्जियाँ, मास्क ,सेनिटाइजर आदि सामग्री उनके घरों तक पहुंचाई। जिसमें उनके सहयोगियों और  नगर क्षेत्र में सभासदों के द्वारा अनेकों स्थान पर खाद्य सामग्री भिजवाई गयी। जिसे जरूरतमन्दों के घरों तक पहुचाया जा रहा है।

पका भोजन भी टिफनो के माध्यम से जरूरतमंदों तक पंहुचाया-

बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि अल्मोड़ा नगर क्षेत्र में पका हुआ भोजन भी टिफनो के माध्यम से जरूरतमंदों तक पहुंचाया जा रहा है, उन्होंने कहा कि जिन साथियों को पके हुए भोजन की आवश्यकता है वह भी उनसे संपर्क कर पका हुआ भोजन अपने घर तक मंगवा सकते हैं ।

अन्य नागरिकों से भी की अपील-

बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि कोई भी व्यक्ति भोजन जैसी मुलभुत सुविधाओं से वंचित नहीं रहना चाहिए इसलिए यह उनका व्यक्तिगत प्रयास है कि जरूरतमंदों तक सहायता पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने अन्य नगरिकों से अपील की कि वे अपने स्तर से जरूरतमन्दों कि मदद करें और तत्काल उनसे संपर्क कर जरूरतमंदों तक सहायता पहुंचाने में अपना सहयोग प्रदान करें।

लाॅकडाउन अवधि तक लगातार भिजवायी जाएगी आवश्यक सामग्री-

बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि कोरोना काल में लोगों को किसी चीज दिक़्क़त न हो इसलिए उनके द्वारा लाॅकडाउन अवधि तक जरूरतमंद लोगों तक खाद्य सामग्री नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार भिजवायी जाएगी।