February 2, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

अल्मोड़ा: अनेकों कुर्बानी शहादतों के बदले हमें आजादी मिली, इन शहादतों में बौरारो घाटी के रणबांकुरों का भी अतुलनीय योगदान – महिला सशक्तिकरण मंत्री रेखा आर्या

 2,060 total views,  2 views today

हमें आजादी विरासत में नहीं मिली है। अनेकों कुर्बानी शहादतों के बदले हमें आजादी मिली है। इन शहादतों में बौरारो घाटी के रणबांकुरों का भी अतुलनीय योगदान रहा है। यह बात आज महिला सशक्तिकरण मंत्री रेखा आर्या ने शहीद स्मारक चनौदा में शहीद स्मारक में शहीदों को पुष्पाजंली अर्पित करते हुये कही।

सत्याग्रह आन्दोलन शुरू किया उसमें बौरारो घाटी के लोगों ने बढ़चढ कर प्रतिभाग किया

उन्होंने कहा कि वर्ष 1942 में चनौदा आश्रम में महात्मा गॉधी ने जो सत्याग्रह आन्दोलन शुरू किया उसमें बौरारो घाटी के लोगों ने बढ़चढ कर प्रतिभाग किया। उन्होंने कहा कि देश को आजादी दिलाने के लिये अपनी शहादत देकर हमें प्ररेणा दे गये ऐसे  वीर शहीदों को मैं हृदय की गहराईयों  से नमन करती हूॅ। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ी को इस बात की जानकारी होनी चाहिए की हमें आजादी कैसे मिली। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस राजकीय मेला घोषित किया है। इसके लिये बौरारो घाटी की जनता उनका आभार व्यक्त करती है।

शहीद स्मारक में गेट बनाने की घोषणा की

इस अवसर पर उन्होंने शहीद स्मारक में गेट बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में हम सभी को अहसास हुआ कि स्वतन्त्रता क्या है। उन्होंने कहा कि विधानसभा सोमेश्वर की जो भी समस्यायें है उन्हें चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जायेगा।

इस अवसर पर मंत्री रेखा आर्य को क्षेत्रीय जनता ने एक ज्ञापन दिया

इस अवसर पर भाजपा मण्डल अध्यक्ष खड़क सिंह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं  विधायक का धन्यवाद करते हुये कहा कि लम्बे समय से क्षेत्रीय जनता की मांग जो राजकीय मेले की थी उसे पूरा किया। इस अवसर पर मंत्री रेखा आर्य को क्षेत्रीय जनता ने एक ज्ञापन दिया जिसमें शहीद स्मारक में गेट का निर्माण, महात्मा गॉधी इण्टर कालेज के अधूरे कार्य को पूर्ण करने, गॉधी आश्रम चनौदा में अतिथि कक्ष एवं शौचालय निर्माण आदि है।

रहे उपस्थित

इस कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य गीता जोशी, उपजिलाधिकारी सोमेश्वर गोपाल सिंह चौहान, तहसीलदार खुशबू आर्या, भुवन जोशी, सहित क्षेत्रीय जनता एवं विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्रायें उपस्थित रहें। कार्यक्रम का संचालन बालम सिंह ने किया।