February 3, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

अल्मोड़ा: 26 जनवरी: अल्मोड़ा पुलिस के इन जवानों को गणतंत्र दिवस पर मिलेंगे पदक

 1,826 total views,  2 views today

अल्मोड़ा से जुड़ी खबर सामने आई है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर अल्मोड़ा पुलिस के इन जवानों को विशिष्ट कार्य के लिए सराहनीय सेवा सम्मान पदक मिलेगा।

1-कानिo 363 ना0पु0 योगेश कुमार, थाना भतरौजखान जनपद अल्मोड़ा

कानिo 363 ना0पु0 योगेश कुमार, वर्ष 2002 में जनपद उधम सिंह नगर में आरक्षी के पद पर उत्तराखंड पुलिस विभाग में भर्ती हुए थे। इनके द्वारा जनपद हरिद्वार व जीआरपी काठगोदाम में तैनात रहकर अपनी सेवाएं दी गईं है। वर्तमान में वर्ष 2022 से थाना भतरौजखान, जनपद अल्मोड़ा में तैनात है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर इनको विशिष्ट कार्य के लिए सराहनीय सेवा सम्मान पदक (चिन्ह) प्रदान किया जायेगा ।

2.महिला कानि0 501 ना0पु0 साईन बानो,थाना भतरौजखान, जनपद अल्मोड़ा

म0कानिo 501 ना0पु0 साईन बानो,थाना भतरौजखान, वर्ष 2016 में जनपद उधम सिंह नगर में आरक्षी के पद पर उत्तराखंड पुलिस विभाग में भर्ती हुए थी। इसके उपरांत इनके द्वारा जनपद अल्मोड़ा में तैनात रहकर अपनी सेवाएं दी जा रही है। वर्तमान में थाना भतरौजखान, जनपद अल्मोड़ा में तैनात है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर इनको विशिष्ट कार्य के लिए सराहनीय सेवा सम्मान पदक (चिन्ह) प्रदान किया जायेगा।

कर्मचारियों का विशिष्ट कार्य का विवरण

भिकियासैण अल्मोड़ा निवासी बुजुर्ग माता जी हेमा देवी का मुम्बई से फेसबुक से वीडियों वायरल होने पर एसएसपी अल्मोड़ा के निर्देश पर आमा की तलाश कर अल्मोड़ा लाने हेतु दिनांक- 10.01.2023 को थाना भतरौजखान से मुम्बई को रवाना होकर दिनांक- 11.01.2023 को मुम्बई पँहुचकर स्थानीय मुम्बई पुलिस व समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से 03 दिनों तक आमा की तलाश हेतु दिन-रात अथक प्रयास कर विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी फुटेज चेक किये गये और लगातार अलग-अलग स्थानों बोरीवली, कांदिवली, मलाड, अंधेरी वेस्ट व लोखंडवाला में बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, फ्लाई ओवर/ब्रिज के नीचे, लंगरों, रैन बसेरो, धर्मशालाओं आदि जगहों पर भ्रमण कर आमा की फोटो/पम्पलेट चस्पा कर व लोगों को दिखाकर पूछताछ करते हुए आमा की तलाश हेतु निरन्तर प्रयास किये गये।

सराहनीय कार्य

अल्मोड़ा पुलिस के उक्त कर्म0गणों द्वारा दिन- रात की गयी कड़ी मेहनत व अथक प्रयासों के परिणामस्वरूप दिनांक-14.01.2023 की प्रातः को आमा को सकुशल तलाश कर आमा को अपने संरक्षण में कुशलतापूर्वक अल्मोड़ा लाकर सराहनीय कार्य किया गया है।