October 26, 2021

अल्मोड़ा: पुलिस ने बाईक चोरी मामले में 02 अभियुक्तों को 24 घंटे में किया गिरफ्तार

 1,472 total views,  2 views today

अल्मोड़ा पुलिस ने बाईक चोरी मामले में 02 अभियुक्तों को चोरी की गई बाईक के साथ मात्र 24 घण्टे में गिरफ्तार किया है ।  श्री मुकुल कुमार सिंह पुत्र रविन्द सिंह निवासी आँफिसर्स कालौनी अल्मोड़ा द्वारा अपनी बाईक चोरी के सम्बन्ध में दिनाॅक- 13.06.2021 को कोतवाली अल्मोड़ा में तहरीर दी कि दिनांक 09/06/2021 को स्थानीय बाजार में भैरव मंदिर के पास अपनी बाईक खड़ी कर सामान खरीदने चले गया वापस आने पर अपनी बाईक न पाकर कई जगह खोजबीन की गई। जिस सम्बन्ध में कोतवाली अल्मोड़ा में दिनाॅक- 13/06/2021 कोे कोतवाली अल्मोड़ा में धारा 379 भादवि0 बनाम अज्ञात में अभियोग पंजीकृत किया गया।

टीम गठित की गयी

मामला श्री पंकज भट्ट, एसएसपी अल्मोड़ा के संज्ञान में आते ही शीघ्र खुलासा किये जाने हेतु टीम गठित कर संबन्धित सीसीटीवी फुटेज खंगालने एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु प्रभारी कोतवाली अल्मोड़ा उ0नि0 अम्बी राम को निर्देशित किया गया।  पुलिस टीम में उ0नि0 गौरव जोशी, कानि0 संदीप सिंह,कानि0 खुशाल कुमार, कानि0 दिनेश नगरकोटी,कानि0 दीपक खनका शामिल रहे ।

2 अभियुक्तों को किया गया गिरफ्तार

गठित टीम द्वारा मामले में त्वरित कार्यवाही कर सम्बन्धित स्थानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर 02 लोगों को चिन्हित करते हुए सुरागरसी पतारसी कर साईबर सेल की मदद से संदिग्धों का पता लगाते हुए दबिश देकर 02 आरोपी, दयाल जोशी उम्र-31 वर्ष पुत्र लीलाधर जोशी, निवासी छतीना खाल द्वाराहाट हाल निवासी वार्ड न0 ट्रांजिट कैम्प रुद्रपुर, पंकज राणा उम्र-31 वर्ष पुत्र रमेश सिंह राणा, निवासी लंकाटापू बिन्दुखत्ता लालकुआं नैनीताल
को गिरफ्तार कर इनकी निशानदेही पर पंकज राणा के घर से बाईक बरामद की गई।

लाभ कमाने के उद्द्देश्य से चोरी थी बाइक

मामलें में विवेचक उ0नि0 गौरव जोशी ने बताया कि संदिग्ध में दयाल जोशी जो कि ट्रांजिट कैम्प में रेस्टोरेन्ट का काम करता है तथा पंकज राणा वर्तमान में घर पर ही रहता है दोनों आपस में दोस्त है।
पूछताछ में दोनों ने बताया कि वे रुद्रपुर से स्कूटी में अल्मोड़ा आये तथा मोटरसाईकिल चोरी कर अधिक लाभ कमाने हेतु बाईक बेचने की फिराक में थे। पुलिस की शीघ्र कार्यवाही में गिरफ्तार हो गये।
पंकज राणा पूर्व में उधमसिंहनगर में चोरी के मामले में तथा दयाल जोशी आबकारी अधिनियम के मामले में प्रकाश में आया हैं, दोनों के आपराधिक इतिहास के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।