May 29, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

अल्मोड़ा: व्यवसायिक सिलेंडरों की बिक्री में 40 फीसद की कमी आई.. जानें सिलेंडर के वर्तमान दाम

 3,872 total views,  2 views today

अल्मोड़ा में व्यवसायिक सिलेंडरों की बिक्री कम होने से इंडियन ऑयल की गैस एजेंसियों को हर माह हजारों रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। लगातार बढ़ती कीमतों के बीच व्यवसायिक सिलेंडर रिफिल कराने वालों की संख्या में कमी आई है। अल्मोड़ा जिले में पिछले कुछ माह में करीब 40 फीसद उपभोक्ताओं ने रसोई गैस सिलेंडर रिफिल कराना बंद कर दिया है।

व्यवसायिक उपभोक्ताओं के रीफिलिंग न कराने से आ रही दिक्कत

अल्मोड़ा गैस सर्विस के पास जिलेभर में करीब 800 से अधिक व्यवसायिक उपभोक्ता हैं। इसी तरह धारानौला, दन्या, ताकुल आदि गैस एजेंसियों में लगातार यह संख्या करीब एक हजार पहुंच जाती है। लेकिन इन गैस एजेंसियों के पास व्यवसायिक सिलेंडरों के उपभोक्ता काफी कम संख्या में पहुंच रहे हैं।

गैस एजेंसियों को हर माह हजारों रुपये का हो रहा नुकसान

अल्मोड़ा गैस सर्विस से मिली जानकारी के अनुसार पिछले कुछ महीनों से करीब 40 फीसद से अधिक उपभोक्ता व्यवसायिक सिलेंडर रिफिल नहीं करा रहे हैं। न ही बुक में एंट्री करवाने के लिए पहुंच रहे हैं। इससे हर माह गैस एजेंसी को हजारों रुपये की चपत लग रही है।

व्यवसायिक कारोबार में किया जा रहा है घरेलू सिलेंडर का उपयोग

अल्मोड़ा में बढ़ती कीमतों के बीच व्यवसायियों ने सिलेंडर रिफिल कराना ही बंद कर दिया है। गैस एजेंसी का कहना है कि कई जगहों पर दुकानदार या अन्य कारोबार में घरेलू सिलिंडर का भी उपयोग किया जा रहा है। घरेलू सिलेंडरों का उपयोग भी इसकी वजह हो सकती है। जिस कारण भी व्यवसायिक सिलेंडरों की बिक्री में कमी आई है।

एक साल में ₹ 600 के पार पहुंचे दाम

रसोई गैस की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। पिछले साल अप्रैल में व्यवसायिक रसोई गैस सिलिंडर की कीमत ₹ 1719.50 थी। 19 किलो वजनी इस सिलेंडर की कीमत वर्तमान में ₹ 2338.50 पहुंच गई है। बीते एक साल में इन सिलेंडरों के दाम करीब 40 फीसद बढ़े हैं।

अल्मोड़ा में सिलेंडर के वर्तमान दाम

घरेलू सिलेंडर 14.2 किलो- ₹ 987
05 किलो- ₹ 364.50
10 किलो- ₹ 709.50
व्यवसायिक सिलेंडर 19 किलो- ₹ 2338.50

उपभोक्ता गैस बुक में कराएं एंट्री

भरत सिंह खाती, प्रबंधक गैस एजेंसी अल्मोड़ा ने बताया कि लगातार बढ़ रही महंगाई के चलते कुछ माह से व्यवसायिक सिलेंडर उपभोक्ता गैस बुक में एंट्री नहीं करा रहे हैं। करीब 40 फीसद तक उपभोक्ताओं ने व्यवसायिक सिलेंडर रिफिल कराना बंद कर दिया है। उपभोक्ता गैस बुक में एंट्री कराएं।