January 30, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

आईटीबीपी के पर्वतारोहियों ने सात हजार से अधिक मीटर की ऊंचाई पर मौजूद माउंट डोम खांग पर सफलतापूर्वक चढ़ाई कर रचा इतिहास

 1,316 total views,  2 views today

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के पर्वतारोहियों ने माउंट डोम खांग पर सफलतापूर्वक चढ़ाई कर इतिहास रच दिया है। माउंट डोम खांग सिक्किम में समुद्र तल से 7 हजार से भी अधिक मीटर की ऊंचाई पर मौजूद है।

माउंट डोम खांग पर पहली सफल चढ़ाई

आईटीबीपी के शीर्ष पर्वतारोहियों की एक टीम ने 22 और 23 सितंबर को देश के ऊंचे पहाड़ों में से एक- माउंट डोम खांग (7250 मीटर / 23,786 फीट) पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की है। यह देश के किसी भी दल द्वारा इस चोटी पर पहली सफल चढ़ाई की है। आईएमएफ के रिकॉर्ड के अनुसार यह किसी भी दल द्वारा इस चोटी पर पहली चढ़ाई है।वहीं आईटीबीपी ने इसके साथ ही इस पर्वत पर चढ़ाई का नया मार्ग भी खोल दिया है, जिससे भविष्य में लाचेन घाटी में पर्वतारोहण को बढ़ावा मिलेगा और सिक्किम में साहसिक खेलों और पर्यटन का विकास होगा।

11 अगस्त को टीम हुई थी रवाना

अभियान ने लगातार दो दिनों में रोप 1 और 2 के रूप में दो समूहों में चोटी पर चढ़ाई की। रोप 1 का नेतृत्व डिप्टी कमांडेंट अनूप कुमार ने किया। जबकि रोप 2 का नेतृत्व कमांडेंट रतन सिंह सोनल ने किया। एक महिला सदस्य समेत टीम में कुल 13 कर्मी शामिल रहे।

इस अभियान को आईटीबीपी के महानिदेशक डॉ सुजॉय एल थाउसेन ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तत्वावधान में ‘हर घर तिरंगा’ अभियान में बल के एक महत्वपूर्ण चरण के रूप में 11 अगस्त को रवाना किया था। इस टीम का नेतृत्व एवरेस्टर कमांडेंट रतन सिंह सोनल ने किया।

कहां है माउंट डोम खांग पीक

माउंट डोम खांग पीक सिक्किम राज्य में स्थित है। चोटी की ऊंचाई 7,250 मीटर या 23,786 फीट है। 5 महिला सदस्यों सहित कुल 21 सदस्य टीम का हिस्सा हैं। पर्वतारोहण के क्षेत्र में ITBP के कई रिकॉर्ड हैं और बल ने अभी तक 230 से अधिक सफल पर्वतारोहण अभियान संचालित करके रिकॉर्ड कायम किया है I

बता दें कि 1962 में स्थापित, आईटीबीपी एक विशेष केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल है, जो लद्दाख के काराकोरम से अरुणाचल प्रदेश के जचेप ला तक 3,488 किलोमीटर भारत-चीन सीमा पर तैनात है। बल को साहसिक खेलों के क्षेत्र में विशेष रूप से पर्वतारोहण, स्कीइंग, रिवर राफ्टिंग और अन्य पर्वतीय खेलों में विशेष उपलब्धियां प्राप्त हैं।