May 26, 2024

Khabribox

Aawaj Aap Ki

पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक के आह्वान पर लोअर माल रोड के कुस्याड़़ क्षेत्र में प्राचीन नौले के जल संवर्धन एवं संरक्षण हेतु स्थानीय नागरिकों द्वारा चौडी पत्ती के पौधों का किया गया रोपण

आज,   पूर्व दर्जा मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता बिट्टू कर्नाटक के आह्वान पर लोअर माल रोड के कुस्याड़़ क्षेत्र में प्राचीन नौले के जल संबर्धन एवं संरक्षण हेतु स्थानीय नागरिकों द्वारा चौडी पत्ती के पौधों का रोपण किया गया । इस अवसर पर श्री कर्नाटक ने बताया कि लगभग 200 पौधों का रोपण कर स्थानीय नागरिकों को इन्हें  बच्चों की तरह जीवित रखने हेतु जिम्मेदारी भी सौपी गयी । उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्ष लाखों पौधे लगाये जा रहे हैं किन्तु उचित देखभाल न होने के कारण ये जीवित नहीं रह पाते जिससे वृक्षारोपण का उद्देश्य समाप्त हो जाता है ।

जीवनदायक आक्सीजन प्रदान करते हैं

पौध रोपण कर इन्हें बचाये रखने के लिये उचित देखभाल का उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाना आवश्यक है ।  उन्होंनंे कहा कि लगाये गये पौधे बडे होकर वृक्ष का रूप धारण कर दूषित वायु को ग्रहण कर हमें शुद्व एवं जीवनदायक आक्सीजन प्रदान करते हैं । प्राणदायक आक्सीजन का उदाहरण वर्तमान कोरोना काल में विश्व के नागरिकों ने देख लिया है तथा इसके महत्व को भली भांति समझा है ।

आज विश्व पर्यावरण असंतुलन से जूझ रहा है

    कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश महामंत्री कांग्रेस आनन्द रावत एवं नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने जल संबर्धन व संरक्षण के साथ साथ जलवायु परिवर्तन का मुख्य कारण पेडों का काटा जाना बताया उन्होंने कहा कि आज विश्व पर्यावरण असंतुलन से जूझ रहा है । लगातार जलवायु परिवर्तन हो रहा है, जीवन दायिनी नदियां सूख रहीं हैं तथा भूमि का कटान हो रहा है जिसका कारण बंजर भूमि पर वृक्षों का न होना है । दोनों मुख्य अतिथियों ने जोर देकर कहा कि आज पर्वतीय अंचलों में चौडी पत्ती के पौधों का रोपण व उनका संरक्षण अत्यन्त आवश्यक है यदि आज भी हम नहीं चेते तो भविष्य में इसके भयानक दुष्परिणाम होंगे जिसके लिये हम सभी जिम्मेदार होंगे । उन्होंने अपील की कि प्रत्येक व्यक्ति वर्षाकाल में रोपित पौधों को जीवित रखने के लिये व्यक्तिगत प्रयास करे ।

यह लोग हुए उपस्थित

इस अवसर पर मुख्य रूप में सभासद हेम तिवारी, माया पंत ,गंगा जोशी,मीना बिष्ट,सुरेश चन्द्र तिवारी,चन्द्र दत्त जोशी,हेम जोशी,डा.करन कर्नाटक,देवेन्द्र प्रसाद कर्नाटक,भूपेन्द्र जोशी,सतीश चन्द्र तिवारी,प्रकाश मेहता,रोहित शैली,गौरव अवस्थी,मनीष तिवारी बिनीता जोशी,गितांजलि बिष्ट,मनीषा मुस्यूनी,मनीषा तिवारी ,प्रेरणा राणा,आयुषि राणा ,दीपा नेगी, केवलानंद जोशी ,सूरज जोशी ,गौरव जोशी ,महेश चन्द्र पंत,नीमा नेगी, सहित अनेकों स्थानीय नागरिक उपस्थित थे ।