October 17, 2021

हरेला महोत्सव के तहत मीत पीपल जागरूकता अभियान कार्यक्रम में एस एस जे विश्वविद्यालय,अल्मोड़ा में पीपल के पौधों का किया गया रोपण

 1,671 total views,  2 views today

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा में 8 दिवसीय हरेला महोत्सव के तहत  आज पीपल जागरूकता अभियान का संचालन किया गया। मीत पीपल जागरूकता अभियान के तहत विश्वविद्यालय के कुलपति आवास, एनटीआर कॉलोनी, न्यू गर्ल छात्रावास,  कनालेश्ववेर महादेव मंदिर (जोशीखोला के पास), गंगनाथ मंदिर NTD क्षेत्र में दर्जनों पीपल के वृक्षों का रोपण किया गया।

कार्यक्रम की शुरूआत की

मीट पीपल अभियान के मुख्य अतिथि के रूप में  विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र सिंह भंडारी, शोध एवं प्रसार निदेशालय के निदेशक प्रोफेसर जगत सिंह बिष्ट, कुलसचिव डॉ बिपिन चंद्र जोशी, विश्वविद्यालय के विशेष कार्याधिकारी डॉ.डी.एस. बिष्ट, परिसर निदेशक प्रो नीरज तिवारी, डॉक्टर नवीन भट्ट (विभागाध्यक्ष,योग), कार्यक्रम संयोजक श्री अरविंद पांडे, डॉ मनमोहन कनवाल ने शुरूआत की।

प्रकृति के साथ सामंजस्य पैदा करना होगा

इस अवसर पर कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा कि पीपल का वृक्ष हमारे पर्यावरण के लिए लाभदायी है। जिस तरीके से पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है, ऐसे में सांस लेने में कठिनाई उत्पन्न हो रही है। इस प्रदूषण को दूर करने के लिए हमें प्रकृति के साथ सामंजस्य पैदा करना होगा। हमें पीपल के पौधों का रोपण कर ऑक्सीजन के स्तर को बनाये रखना होगा। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के संरक्षण के लिए यह अभियान जारी रहेगा।
ज्ञातव्य है कि मीत पीपल अभियान की शुरुआत  सोबन सिंह झरना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो नरेंद्र सिंह भंडारी एवं श्रीमती संजना भंडारी ने की है और इस अभियान को बढ़ाते हुए प्रदेशभर में सैकड़ों पीपल के पौधों को रोपा गया है।

इस अवसर पर यह लोग रहे शामिल

इस अवसर पर प्रो बी सी तिवारी, प्रो अरविंद अधिकारी,डॉ ममता पंत,डॉ ललित जोशी, डॉ मनमोहन कनवाल, डॉ दीपक कुमार, डॉ देवेंद्र धामी श्री देवेंद्र सिंह धामी, जीवन चंद्र मठपाल, राजेन्द्र पांडे, गोविंद मेर, गौरव भंडारी, उम्मेद सिंह धामी हीरा सिंह खड़ायत, मुरली धर कापड़ी, युगल पांडे, चिरंजीव यादव, ललित पोखरिया आदि शामिल हुए।