July 5, 2022

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण

 1,074 total views,  2 views today

जम्मू-कश्मीर में राजौरी के नौशेरा सेक्टर में जवानों के साथ दिवाली मनाने के बाद प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेवानिवृत) ने देहरादून एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत किया। यहां से प्रधानमंत्री हेलिकॉप्टर के जरिए सीधे केदारनाथ पहुंचकर उन्होंने केदारनाथ मंदिर में भगवान शिव की आरती और रुद्राभिषेक किया।

शंकराचार्य के समाधि स्थल का लोकार्पण किया

केदारनाथ में शंकराचार्य की 12 फुट लंबी और 35 टन वजन वाली प्रतिमा स्थापित की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शंकराचार्य के समाधि स्थल का लोकार्पण किया, जो 2013 की प्राकृतिक आपदा में क्षतिग्रस्त हो गया था। बाबा केदारनाथ के दर्शन करने के साथ ही प्रधानमंत्री ने केदारनाथ में 400 करोड़ रुपये से अधिक के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया। आदि गुरु शंकराचार्य को हिंदू धर्म को पुनर्जीवित करने का श्रेय दिया जाता है। प्रधानमंत्री के आगमन से संबंधित व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए बुधवार को ही मुख्यमंत्री ने केदारनाथ का दौरा किया था।क्षइस दौरान उन्होंने देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग कर रहे तीर्थ पुरोहितों और पंडा समाज के प्रतिनिधियों से भी वार्ता की थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह प्रधानमंत्री मोदी के आगमन से पहले तैयारियां देखने आए थे और सभी तैयारियां ठीक से हो गई हैं। प्रधानमंत्री मोदी की बाबा केदारनाथ के प्रति विशेष आस्था और श्रद्धा है और उनका उत्तराखंड को दुनिया की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक राजधानी के तौर पर विकसित करने की ‘दूरदृष्टि’ है, जहां पूरी दुनिया के लोग आध्यात्मिक शांति के लिए आएंगे।