October 26, 2021

हाईलैंडर्स स्पोर्ट्स अकादेमी, काशीपुर में एसएसजे विश्वविद्यालय के मा. कुलपति प्रो0 नरेंद्र सिंह भंडारी ने खिलाड़ियों को किया प्रोत्साहित

 4,298 total views,  2 views today

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा के कुलपति प्रो0 नरेंद्र सिंह भंडारी जी ने काशीपुर स्थित हाईलैंडर्स स्पोर्ट्स अकेडमी में जाकर खिलाड़ियों को खेल क्षेत्र में विशिष्ट पहचान बनाने के लिए प्रोत्साहित किया।  हाइलैंडर स्पोर्ट्स अकादेमी में उन्होंने राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल रहे खिलाड़ियों से मुलाकात कर उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने हेतु मार्गनिर्देशन किया। साथ ही हाईलैंडर्स खेल अकादेमी की खेल-सुविधाओं को देखकर वहां के अधिकारियों की प्रशंसा भी की ।

विशिष्ट पहचान बनाने की प्रेरणा दी

उन्होंने कहा कि अकादमी के अधिकारी बड़ी तन्मयता के साथ खिलाड़ियों को तराश रहे हैं। भविष्य में हम भी इस अकादेमी का सहयोग सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय की खेल गतिविधियों में भी लेंगें। उन्होंने वहां सभी खिलाड़ियों को इस खेल अकादेमी की खेल सुविधाओं और वहां के कोचों के अनुभवों का लाभ उठाने के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया और उन्हें खेल क्षेत्र में विशिष्ट पहचान बनाने की प्रेरणा दी।

पर्वतीय राज्य के दूरस्थ अंचलों में खेल प्रतिभाएं छुपी हुई हैं

कुलपति प्रो0 भंडारी ने भ्रमण के दौरान कहा कि इस पर्वतीय राज्य के दूरस्थ अंचलों में खेल प्रतिभाएं छुपी हुई हैं। यहां खेल प्रतिभाओं के हुनर को पहचान कर, उनको खेल के लिए तैयार कर हम बेहतर से बेहतर खिलाड़ियों को तैयार कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय में हमने क्रीड़ा विभाग के माध्यम से सीमांत जनपदों के युवाओं को खेल क्षेत्र में भविष्य बनाने, उन्हें तराशने, उनको राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए गतिविधियां संचालित की हैं। हमने इस हेतु विस्तृत कार्य-योजना तैयार की है और खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए कार्य करना भी प्रारंभ कर दिया है।

आर्थिक स्थिति सुदृढ़ न हो पाने आदि की वजह से वो खेल क्षेत्र में अपना भविष्य निर्माण नहीं कर पाते

कुलपति प्रो0 भंडारी ने आगे कहा कि ग्रामीण अंचलों में पुरुष एवं महिला, दोनों की खेल के प्रति रुचि है, किन्तु उन्हें बेहतर प्लेटफॉर्म न मिल पाने, उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ न हो पाने आदि की वजह से वो खेल क्षेत्र में अपना भविष्य निर्माण नहीं कर पाते, ऐसे में हम सीमांत जनपदों में जाकर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित करा रहे हैं और उन क्रीड़ा प्रतियोगिताओं में सीमांत जनपदों के सैकड़ों युवाओं ने बढ़-चढ़कर भागीदारी भी की है। स्थानीय जनता ने सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा के इन प्रयास को सराहा है और हमें भविष्य में भी वहां खेल गतिविधियां संचालित करने हेतु आमंत्रित किया है। हम भविष्य में सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा में राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिताओं को संचालित करने के लिए भी तैयारी कर रहे हैं। पर्वतीय क्षेत्र में रहने वाले युवाओं को क्रिकेट, एथलेटिक्स, बॉडी बिल्डिंग, खो-खो, हॉकी,बैडमिंटन, ताइक्वांडो आदि खेलों में अपना भविष्य बनाने के लिए उनका उत्साहवर्धन कर रहे हैं।उन्होंने हाईलैंडर्स स्पोर्ट्स अकादेमी के विभिन्न खेल गतिविधियों का जायजा भी लिया।

यह लोग रहे उपस्थित

इस दौरान उनके साथ सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के विशेष कार्याधिकारी डॉ0 देवेंद्र सिंह बिष्ट, विश्वविद्यालय क्रीड़ा प्रभारी श्री लियाकत अली, हाइलैंडर्स स्पोर्ट्स अकादेमी के एम0डी0 संजय ठाकुर, मैनेजर भारत पंत, अंतरराष्ट्रीय महिला खिलाड़ी श्वेता वर्मा, नेहा मेहता (राष्ट्रीय खिलाड़ी, क्रिकेट), प्रीति भंडारी (राष्ट्रीय खिलाड़ी), चिराग वरेथा (पैरा, बैडमिंटन खिलाड़ी) सहित हाईलैंडर स्पोर्ट्स अकादेमी के सहयोगी भी मौजूद थे।