January 21, 2022

सोशल डिफेंस सर्विस के लिए तपस पोर्टल की हुई शुरुवात, जानिये इसके बारे में

 1,411 total views,  3 views today

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने इच्छुक लोगों के लिए विभिन्न कोर्सेज वाला ट्रेनिंग फॉर ऑगमेंटिंग प्रोडक्टिविटी एंड सर्विसेज यानि तपस नामक ऑनलाइन शिक्षा पोर्टल लॉन्च किया है। इस पोर्टल के अंतर्गत सामाजिक रक्षा और दुरुपयोग की रोकथाम के अलग-अलग डोमेन में बड़े पैमाने पर ओपन ऑनलाइन कोर्स शुरू किये गए हैं। इसका उद्द्देश्य समाज के वंचित लोगों का विकास और कल्याण करना है ।

यह पाठ्यक्रम परिवर्तन का मार्ग प्रशस्त करेगा: वीरेंद्र कुमार

लॉन्चिंग के दौरान, केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री वीरेंद्र कुमार ने कहा  कि तपस के माध्यम से मंत्रालय बड़ी संख्या में ऐसे लोगों तक पहुंच सकेगा जो सामाजिक रक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। यह पाठ्यक्रम परिवर्तन का मार्ग प्रशस्त करेगा और नई संभावनाओं को खोलेगा।

कौन-कौन से ऑनलाइन कोर्स किए गए हैं शामिल?

इस पोर्टल में 5 ऑनलाइन कोर्स होंगे। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल डिफेंस, एनआईएसडी द्वारा लॉन्च किया गया है । जिसमें ट्रांसजेंडर मुद्दे, सोशल डिफेंस मुद्दे, वृद्धावस्था/ बुजुर्गों की देखभाल पर कोर्स, डिमेंशिया के मरीजों की देखभाल को लेकर कोर्स और नशीले पदार्थों के दुरुपयोग पर कोर्स शामिल किये गए हैं। इन पांचों कोर्स से कोई भी लाभान्वित हो सकता है। सबसे मुख्य बात कि इस पोर्टल पर देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों के शिक्षकों को शामिल किया गया है। ऑनलाइन कोर्स होने के कारण प्रशिक्षण लेने वाला कोई भी व्यक्ति दुनिया के किसी भी कोने से इसका फायदा उठा सकता है।

क्लास वर्चुअल माध्यम से होंगी आयोजित

इसके लिए क्लास वर्चुअल माध्यम से आयोजित की जाएंगी ।  जिनमें क्लास लेने वाले शिक्षक क्लास लेने वाले प्रतिभागियों से बात करेंगे। जो भी टॉपिक या सिलेबस होगा, उसके हिसाब से पढ़ने के लिए सामग्री यानि नोट्स प्रदान किये जायेंगे। बातचीत के लिए एक मंच भी दिया जाएगा, जिसमें कोई भी छात्र अपनी क्वेरी, टाइप करके बता पाएंगे और फिर आखिर में प्रतिभागियों की समझ का मूल्यांकन करने के लिए एक क्विज टेस्ट भी करवाया जाएगा।