August 17, 2022

उत्तराखंड में इस साल भी कावड़ यात्रा पर लगी रोक, इसके बावजूद भी नहीं मानने पर होगी सख़्त कार्यवाही, डीजीपी ने दिए आदेश

 2,672 total views,  5 views today

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के मामले कम होने लगे हैं लेकिन हम सभी को कोविड नियमों का बखूबी पालन करना बेहद जरुरी है, जिससे हम लोग कोरोना संक्रमण की कम हुई रफ़्तार को फैलने से रोक सके। इसी वजह से उत्तराखण्ड राज्य में कावड़ यात्रा पर रोक लगा दी गई है।

कावड़ यात्रा पर लगी रोक-

कोरोना महामारी के चलते इस साल भी कावड़ यात्रा पर रोक लगा दी गई है। 2020 में भी कोरोना संक्रमण के कारण कांवड़ यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया था.  वही उत्तराखण्ड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने भी अन्य राज्यों से आने वाले कावड़ियों से अनुरोध किया है कि वह कावड़ लेकर उत्तराखंड के किसी भी शहर में प्रवेश न करें।

कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के चलते लिया गया फैसला-

देश में कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। जिसके चलते उत्तराखंड सरकार ने कावड़ यात्रा को प्रतिबंधित कर दिया है। इसी संबंध में आज डीजीपी अशोक कुमार ने पंजाब, यूपी, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश समेत आठ राज्यों के पुलिस अधिकारियों के साथ वर्चुअल माध्यम से बैठक की।

उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत होगा मुकदमा दर्ज-

डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि इसके बावजूद भी जो कावड़ हरिद्वार सहित अन्य शहरों में पहुचेंगे, उनके खिलाफ सख़्त से सख़्त कार्यवाही की जाएगी। वही इन नियमों का उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा।