August 11, 2022

सौ से अधिक प्रजाति की तितलियों का संसार बना नैनीताल का ये बॉटनिकल गार्डन

 2,896 total views,  2 views today

वैसे तो आपने कई तरह के गार्डन्स के बारे में सुना होगा, लेकिन आज आपको बताते हैं एक ऐसे अनोखे गार्डन के बारे में जहाँ आपको 100 से भी अधिक प्रजाति की तितलियों का दीदार हो सकता है। यह गार्डन अलग-अलग प्रजातियों की तितलियों की एक अलग ही दुनिया है। यहाँ पर इन तितलियों के साथ प्रकृति है, पेड़-पौधे हैं और इस शांत वातावरण इस खूबसूरत परिवेश में चार चांद लगा देता है।

नारायण नगर में यह बॉटनिकल गार्डन स्थित है

हम जिस मनमोहक और अनोखे गार्डन की बात कर रहे हैं वो और कहीं नहीं बल्कि हमारे अपने राज्य उत्तराखंड की हसींन वादियों में है। नैनीताल से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर नारायण नगर में यह बॉटनिकल गार्डन स्थित है। बात 2005 की है जब वन विभाग ने नारायण नगर के इलाके को बॉटनिकल गार्डन के रूप में विकसित करने के लिए चुना था। यहां के मौसम और शांत वातावरण को ध्यान में रखते हुए यहां ऐसे पौधों के विकास की योजना बनाई गई, जो यहां के वातावरण में पनप सकें। यहां के वातावरण से आकर्षित होकर तितलियों ने भी यहां अपना बसेरा बनाना शुरू कर दिया। यदि सही समय और मौसम में यहां पहुंचा जाए तो पूरे साल में दो बार यहां सैकड़ों तितलियों का दीदार किया जा सकता है।

कई प्रकार की तितलियों की प्रजाति हैं मौजूद

फरवरी के महीने में जब कुदरत अपना रंग बदलती है और जाड़ो के मौसम में जब थोड़ा बदलाव आने लगता है, तभी यहाँ पर तितलियों का जमावड़ा शुरू हो जाता है, जो जून के माह तक चलता रहता है। उसके बात यही नज़ारा सितंबर से लेकर नवंबर तक देखा जा सकता है। गार्डन के इंचार्ज अरविंद कुमार के अनुसार इस गार्डन में तितलियों की कई दुर्लभ प्रजातियां जैसे वाइल्ड ऐरो सिल्क मॉथ, गोल्डन बर्ड विंग, पेल जेजेबेल, पी ब्लू,ब्लूटिट, टेल्ट रेडब्रेस्टेड, हिमालय बर्नठ, कॉमन पिकॉक, रॉयल सिल्क मॉथ आदि प्रजातियों समेत कुछ अन्य तरह की तितलियों का दीदार भी किया जा सकता है।