June 14, 2024

Khabribox

Aawaj Aap Ki

उत्तराखंड:  गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम से कारोबारी के बेटे से मांगी रंगदारी, मामले का खुलासा

गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम से मांगी जा रही रंगदारी प्रकरण का हरिद्वार पुलिस ने सफल खुलासा किया है।

जानें पूरा मामला

हरिद्वार निवासी हार्डवेयर व्यापारी संतोष महेश्वरी को किसी अंजान शख्स ने गैंगस्टर के नाम से धमकाकर रंगदारी की मांग की थी। शिकायत पर दिनांक 09/03/2023 को कोतवाली नगर हरिद्वार में मुकदमा दर्ज कर विवेचना चल ही रही थी कि पुनः उक्त व्यापारी को 02 जून को नए नम्बर से टेक्स्ट मैसेज के माध्यम से पुनः धमकी मिली। ऐसे ही कॉल कर धमकी के संबंध में दो व्यापारियों द्वारा जनपद देहरादून के रायवाला थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। इन दो व्यापारियों को भी ने नम्बर से टेक्स्ट मैसेज के माध्यम से पुनः धमकी मिली।

एसएसपी अजय सिंह ने की स्पेशल टीम गठित-

प्रगतिशील विवेचना के दौरान ही व्यापारी को दरबार धमकी मिलने के लेकर गंभीर एसएसपी अजय सिंह एक स्पेशल पुलिस गठित कर उन्हे जल्द से जल्द मामले की स्पष्ट तस्वीर जनता के सामने लाने के निर्देश दिए।

भरोसे पर खरी उतरी टीम, किया खुलासा-

गठित स्पेशल टीम ने फोन कॉल/ मैसेज करने के लिए प्रयोग किए गए मोबाइल नंबर की CDR का गहनता से अवलोकन कर इलेक्ट्रॉनिकली अन्य कई बातों का ध्यान रखते हुए साथ ही साथ फील्ड में अपने मुखबिरों का जाल बिछाकर अभियुक्त वीरेंद्र उर्फ छोटा सुनार व गोविंद बाबा को हिरासत में लेकर धमकी देने में प्रयुक्त मोबाइल फोन को भी बरामद किया गया।

अभियुक्तों का असल इतिहास-

विवेचना के दौरान पता चला है कि अभियुक्त वीरेंद्र उर्फ छोटा सुनार विलासपुर छत्तीसगढ स्थित अंग्रेजी माध्यम के स्कूल से पढ़ाई के दौरान छठवीं कक्षा में भागकर हरिद्वार आ गया था। इस दौरान घाटों पर गोताखोरी करने व गंगा ढूंढने के वह अन्य गोताखोरों को मिले स्वर्ण अथवा चांदी के आभूषण आदि को तुरंत खरीदकर आगे बेचने के उसके काम के कारण उसका नाम छोटा सुनार पड़ा। अन्य अभियुक्त गोविंद बाबा निर्धन निकेतन विद्यालय से दसवीं फेल होकर अस्थाई चाय की दुकान चलाता है।

कुछ ऐसे बना था प्लान-

अक्सर एक साथ शराब पीने के दौरान दोनों अभियुक्तों ने रंगदारी मांगने का प्लान तैयार किया। थोक विक्रेता के पास मोटी रकम आने की जानकारी होने पर अभियुक्तों ने फिरौती में ज्यादा पैसा हासिल करने के लिए पहले हरिद्वार निवासी हार्डवेयर व्यापारी की दुकान के बोर्ड से उसका नम्बर लिया और रायवाला निवासी व्यापारियों के दुकान के बोर्ड पर नम्बर अंकित न होने पर उनके द्वारा संचालित स्कूल से नम्बर प्राप्त कर तीनों नम्बरों पर गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर चौथ मांगी थी।

अभियुक्त

1- वीरेंद्र उर्फ छोटा सुनार पुत्र कैलाश चंद निवासी हरिपुर कला रायवाला
2- गोविंद बाबा पुत्र महाकाल गिरी निवासी हिल बाईपास खड़खड़ी