February 2, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

अल्मोड़ा: पुलिस की जागरूकता पाठशाला से लाभान्वित हुए विद्यार्थी, पुलिस उपाधीक्षक ने दी उत्तराखण्ड पुलिस एप की जानकारी

 4,380 total views,  2 views today

अल्मोड़ा से जुड़ी खबर सामने आई हैं। यहां दिनॉक- 30.08.2022 को सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय शिक्षा संकाय परिसर अल्मोड़ा में चल रहे साप्ताहिक सामुदायिक सहभगिता कार्यशाला में अतिथि पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन ओशीन जोशी द्वारा अपनी पुलिस टीम एसओजी प्रभारी सुनील धानिक, प्रभारी एन्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स सौरभ भारती के साथ जागरूकता कार्यशाला में प्रतिभाग कर विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया गया।

पुलिस अल्मोड़ा को पुष्प गुच्छ एवं स्मृति चिन्ह किया भेंट-

कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष प्रो0 भीमा मनराल, डॉ0 रिजवाना सिद्की एवं विभाग के प्राध्यापकों द्वारा मित्र पुलिस अल्मोड़ा को पुष्प गुच्छ एवं स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। पुलिस उपाधीक्षक ओशीन जोशी द्वारा घरेलू हिंसा एवं महिला अधिकारों के बारे में विस्तृत जानकारी एवं जागरूक रहने हेतु प्रेरित किया गया।

उत्तराखंड पुलिस एप की दी जानकारी-

कार्यशाला में उपस्थित सभी को उत्तराखण्ड पुलिस एप डाउनलोड करने तथा घर बैठे-बैठे महिला सुरक्षा, नशे से सम्बन्धित शिकायत, सत्यापन, महत्वपूर्ण नम्बर, चोरी, यातायात शिकायत आदि कई सुविधाओं का समावेश एक ही एप में किया गया है जिसमें ज्यादा से ज्यादा आप लाभ ले सकते हैं। आप अपने आस-पास भी लोगों को भी जागरूक कर उत्तराखण्ड पुलिस एप की जानकारी दें। सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना कर सुनहरे भविष्य के गुर बताये गये।

इस संबंध में किया जागरूक-

एसओजी प्रभारी सुनील धानिक द्वारा विद्यार्थियों को वर्तमान में हो रहे साईबर उपराध के विभिन्न रूपों से परिचित कराते हुए उनसे बचाव के तरीकों एवं फर्जी वीडियो कॉलिंग से सर्तक रहने हेतु जागरूक किया गया।
प्रभारी सौरभ भारती द्वारा ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन- 2025 से अवगत कराते हुए सभी से नशे से दूर रहने एवं नशे से होने वाले दुष्परिणामों, यातायात नियमों का पालन कराने के बारे में जानकारी दी गयी। अपने आस-पास के लोगों को भी नशे से दूर रहने, साईबर धोखाधड़ी होने पर हेल्प लाईन नम्बर 1930 तथा नजदीकी थाने तत्काल सूचना/सम्पर्क करने हेतु बताया गया।

यह लोग रहें मौजूद-

कार्यक्रम में शिक्षा संकाय के समस्त प्राध्यापक, डॉ0 संगीता पवार, डॉ0 देवेन्द्र चम्याल, सुश्री सरोज जोशी, डॉ0 ममता काण्डपाल, डॉ0 पूजा प्रकाश, सुश्री ललिता रावल, श्री मनोज कुमार तथा समस्त बी0एड/एम0एड0 के विद्यार्थी मौजूद रहे।