November 29, 2021

भैय्या दूज के दिन बन्द होंगें केदारनाथ धाम के कपाट…. उत्तराखंड टॉप टेन न्यूज़(26 अक्टूबर)

 4,008 total views,  2 views today

◆ आज राज्यपाल गुरमीत सिंह ने राजभवन में सभी राजकीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों तथा उच्च शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक की।

◆ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता आरपी रतूड़ी का कहना है कि बागी लोग कांग्रेस को धोखा देकर के गए हैं, अब मलाई चाटने वापस आ रहे हैं।

◆ बागेश्वर में सुंदरढूंगा ग्लेशियर की साहसिक यात्रा में लापता पांचों पर्यटकों के शव रेस्क्यू कर निकाले।

◆ आस्था का केंद्र भगवान केदारनाथ धाम के कपाट 6 नवम्बर को भैया दूज के दिन सुबह साढ़े आठ बजे बंद कर दिए जाएंगे।

◆ मुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रदान की गई वित्तीय स्वीकृति।

◆ मुख्यमंत्री से आज मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखण्ड के कलाकारों के दल ने भेंट कर लोक कला एवं लोक संस्कृति को बढ़ावा देने पर बातचीत की। मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा की लोक परम्परा को आगे बढ़ाने में कलाकारों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

◆ चन्द्रबदनी मंदिर उत्तराखण्ड के टिहरी जनपद के चन्द्रकूट पर्वत पर स्थित है। यह मंदिर देवी सती के 51 शक्तिपीठों में एक है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार यहाँ देवी सती का बदन (धड़) गिरा था जिसके कारण इस मंदिर का नाम चन्द्रबदनी पड़ा।

◆ हरिद्वार के लक्सर में इंटरलॉकिंग कार्य के चलते आज से देहरादून रेलवे स्टेशन से लगभग सभी गाड़ियों को 29 अक्टूबर तक के लिए निरस्त कर दिया गया है। देहरादून रेलवे स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि 30 अक्टूबर से सभी ट्रेनों का संचालन सामान्य हो जाएगा।

◆ बागेश्वर के सुंदरढूंगा ग्लेशियर से एसडीआरएफ के जवानों ने आज 5 पर्यटकों के शवों को रेस्क्यू कर लिया है। लेकिन स्थानीय गाइड का कोई सुराग नहीं लग पाया है। 16 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल के 5 पर्यटकों के साथ एक स्थानीय गाइड खिलाफ सिंह और चार पोर्टर खाती क्षेत्र से ट्रैकिंग पर निकले थे।

◆ चम्पावत में पिछले दिनों आई आपदा से नुकसान के आकलन के लिए न्याय पंचायत स्तर पर नोडल अधिकारियों को नामित किया गया है। जिले में 18 से 20 अक्टूबर तक भारी बारिश के कारण 11 लोगों की मौत हुई है। ज़िलाधिकारी विनीत तोमर का कहना है कि आपदा से तकरीबन 150 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

◆ चमोली: भारत -चीन सीमा को जोड़ने वाले जोशीमठ-मलारी -नीती बार्डर हाइवे बीते 7 दिनों से अवरुद्ध होने के कारण बंद था l मार्ग बंद होने से सेना,पर्यटक व ग्रामीण घाटी के दूसरी ओर फंस गए थे l बीआरओ द्वारा अब हाईवे को यातायात के लिए खोल दिया है l