उत्तराखंड: ये क्या? मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर ही निकले मोबाइल चोर

यहां कॉलेज के प्रोफेसर साहब ही मोबाइल चोर निकले । प्रोफेसर के कमरे की तलाशी करने पर साहब के कमरे से 30 मोबाइल फोन बरामद हुए ।

जाने पूरा मामला

यह प्रकरण राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर का है । जहां एक छात्र का मोबाइल चोरी हो गया । 15 दिसंबर को मेडिकल कॉलेज में परीक्षा थी । जिसके चलते सभी छात्रों ने अपने अपने मोबाइल फ़ोन कक्ष निरीक्षकों के पास जमा करवा दिए । जब परीक्षा सम्पन्न हुई तो सभी छात्र अपने मोबाइल फोन लेने पहुंचे । तभी एक छात्र का मोबाइल फ़ोन नहीं मिला । जिसके बाद कॉलेज के एनोटॉमी विभागाध्यक्ष प्रो. अनिल द्विवेदी ने जांच की और उन्होंने जब सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग खंगाली  तो वह हैरान रह गए । क्योंकि कॉलेज के एक सीनियर प्रोफेसर जो 10 साल से कार्यरत हैं, वह फोन ले जाते दिखे । अब
प्रो. द्विवेदी ने यह मामला प्राचार्य प्रो. सीएम रावत के सामने रखा ।  और वह प्राचार्य संस्थान के अधिकारियों के साथ संबंधित प्रोफेसर के कमरे में पहुंचे।

चोरी के बावजूद मुकरे प्रोफेसर

जब प्रोफेसर साहब से मोबाइल फ़ोन के बारे में पूछा तो वह साफ़ मुकर गए । अन्य प्रो. ने  जब सीसीटीवी फुटेज के बारे में बताया वह फिर भी न मानें । जब प्रोफेसर के कमरे की तलाशी हुई तो उनके कमरे से 30 मोबाइल फोन बरामद हुए  ।इसके बाद जब उनसे इन सब फोन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह सभी मोबाइल उनके हैं ।

छात्र ने पहचाना अपना फोन

जब छात्र को उसके फ़ोन की शिनाख्त करने को कहा गया तो उसने तुरंत अपना फोन पहचान लिया । यही नहीं छात्र का फोन फॉरमेट भी कर दिया गया था ।

कमेटी गठित की गयी

फिलहाल मामले की जांच के लिए कमेटी गठित की गयी है । बताया जा रहा है कि  प्रो. पर क्लास में न पढ़ाने व फोन पर अनावश्यक मैसेज भेजने के भी आरोप हैं।