November 27, 2022

साइबर ठगी का शिकार हुए लोगों को वापस मिलेगा उनका पैसा, जारी हुआ राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर, स्थानीय पुलिस द्वारा होगा संचालित

 1,707 total views,  2 views today

दुनिया भर से साइबर क्राइम की घटनाएं सामने आती है। भारत में भी साइबर क्राइम का बहुत बड़ा जाल है, जिसमें बड़ी संख्या में आम जनता इन साइबर ठगी का शिकार बनते हैं,और अपनी सालों की मेहनत की जमा पूंजी गंवा देते हैं। लेकिन इसी बीच इसी से जुड़ी अच्छी खबर सामने आई है।

गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर किया शुरू-

अब साइबर ठगी का शिकार हुए लोग आसानी से अपना पैसा वापस पा सकते हैं। गृह मंत्रालय ने इसके लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर शुरू किया है। जिसके माध्यम से साइबर ठगी का शिकार हुए लोग इस हेल्पलाइन पर सूचना दे सकते हैं। जिसमें कोई भी व्यक्ति हेल्पलाइन नंबर 155260 पर इसकी सूचना दे सकता है। जिसे जल्द चालू कर दिया जाएगा।

स्थानीय पुलिस द्वारा किया जाएगा संचालन-

यह राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर होते हुए सभी राज्यों की स्थानीय पुलिस द्वारा इसका संचालन किया जाएगा।जिससे साइबर ठगी का शिकार हुए लोग अपने स्थानीय पुलिस थाने में जाकर शिकायत कर सकते हैं।

जाने कैसे रोकी जाएगी ठगी-

इसमें साइबर ठगी का शिकार हुए लोगों द्वारा शिकायत मिलने के तुंरत बाद शिकायत नंबर के साथ पूरी जानकारी उस बैंक या वालेट के पास भेज दी जाएगी, जिस बैंक में ठगी का पैसा गया होता है। जिसके बाद बैंक के सिस्टम में यह जानकारी फ्लैश करने लगती है। यदि पैसे संबंधित बैंक या वालेट के पास ही हैं, तो वह उसे तत्काल रोक देगा। यदि पैसा किसी और बैंक या वालेट में चला गया हो तो वह उसे संबंधित बैंक या वालेट को भेज देगा। जिससे आसानी से ठगी को रोका जाएगा। जिससे काफी हद तक मदद मिलेगी।