December 5, 2022

उत्तरप्रदेश की योगी सरकार ने 10 साल तक लागू की नई जनसंख्या नीति, जाने इसकी खास बातें

 3,457 total views,  4 views today

आज विश्व जनसंख्या दिवस पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 11:30 बजे 2021-2030 के लिए प्रदेश की नई जनसंख्या नीति 2021-2030 लागू कर दी है। 

उत्तर प्रदेश की जनसंख्या नीति 10 साल तक रहेगी लागू-

आज उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश जनसंख्या नीति 2021-2030 को लागू कर दिया है। विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर आज सीएम आवास पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें 10 साल तक नई जनसंख्या नीति लागू रहेगी।

जाने इसकी खास बातें –

1- उन्नत स्वास्थ्य सुविधाओं के माध्यम से नवजात मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर को कम करने और नपुंसकता/बांझपन की समस्या के समाधान उपलब्ध कराने के लिए सरकार प्रयास करेग।

2- 11 से 19 साल तक के किशोरों के लिए सही पोषण, शिक्षा और स्वास्थ्य के बेहतर प्रबंधन किए जा सकें। इसके अलावा, बुजुर्गों की देखभाल के लिए भी व्यापक व्यवस्था करना सरकार का लक्ष्य है

3- इससे रोजगार के बेहतर अवसर मिलेंगे और इस कानून से प्रदेश के साथ देश भी आगे बढ़ेगा और बच्चों को अच्छा जीवन मिल सकेगा।

4- नसबंदी कराने के बाद एक्स्ट्रा इंक्रीमेंट, प्रमोशन, सरकारी आवासीय योजनाओं में छूट, पीएफ में एम्प्लॉयर कंट्रीब्यूशन बढ़ने जैसी कई सुविधाएं मिलेंगी।

5- दो बच्चों वाले दंपति अगर सरकारी नौकरी में नहीं हैं तो उन्हें पानी, बिजली, हाउस टैक्स, होम लोन में छूट व अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। जिसका प्रस्ताव रखा गया है।

6- एक संतान पर खुद से नसबंदी कराने वाले हर माँ बाप को संतान के 20 वर्ष तक मुफ्त इलाज, शिक्षा, बीमा शिक्षण संस्था व सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता दी जाएगी।

7- जो गरीबी रेखा के नीचे हैं और एक संतान के बाद ही स्वैच्छिक नसबंदी करवाते हैं तो उनके बेटे के लिए उसे 80 हजार और बेटी के लिए एक लाख रुपये एकमुश्त दिए जाने की सिफारिश रखी गई है।

8- इसी के साथ जो व्यक्ति दूसरी शादी करता है तो भी सभी पत्नियों से मिलाकर दो ही बच्चे होने चाहिए। ऐसा न होने से वह योजनाओं से वंचित रहेगा।

9- वही जो गर्भवती महिला एक साथ दो जुड़वां बच्चों को जन्म देती है तो ऐसे मामलों में वह कानून के दायरे में नहीं आएंगे।

10- जो इन कानूनों का उल्लंघन करेगा, उसको अपनी नौकरी गंवानी पड़ेगी और योजनाओं का भी उसे लाभ नहीं मिलेगा।