May 22, 2022

एक विचित्र गाँव जहाँ जमीन के अंदर है लोगों का बसेरा, जानिये इसका रहस्य

 1,811 total views,  2 views today

इस धरती पर ऐसी बहुत सी जगह हैं जो हमारे परिवेश से एकदम अलग हैं, और उन विचित्र जगह के बारे में सुनकर ऐसा लगता है कि कहीं ये कल्पना मात्र तो नहीं। लेकिन सच में दुनिया में कई ऐसी हैरतअंगेज जगह हैं जिनमें से कोई ऐसी जगह है जहाँ आपको कई महीनों तक चांद-सूरज नहीं दिखाई पड़ते तो कुछ ऐसी जगह ऐसी भी है जहां कभी रात का अँधेरा नहीं होती है। लेकिन आज हम बात कर रहे हैं ऐसे एक विचित्र गांव के बारे में, जो जमीन के अंदर बसा हुआ है। सुनने में शायद ये कल्पना लगे लेकिन दुनिया में एक गांव ऐसा भी है जहाँ के लोग जमीन के नीचे रहते हैं।

कहाँ है ये अंडरग्राउंड गांव

ये अजीबोगरीब गांव कहीं और नहीं बल्कि दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में स्थित है। इस गांव का नाम ‘कूबर पेडी’ है और यहां के लोग जमीन के अंदर बने घरों में रहते हैं।  घर अंडरग्राउंड बने हुए ये घर बाहर से देखने में सामान्य लगते हैं लेकिन अंदर से किसी होटल जैसे आलिशान हैं। कूबर पेडी इलाका दुनिया में सबसे अधिक ओपल की खदानें होने की वजह से विख्यात है। ओपल एक दूधिया रंग का कीमती पत्थर होता है, और विचित्र बात यही है कि इन्ही ओपल की खाली पड़ी खदानों को लोगों ने अपना बसेरा बना लिया है।

लोगों ने जमीन के अंदर रहना क्यों चुना

कूबर पेडी एक रेतीला इलाका है जिसकी वजह से यहां रहने वाले लोगों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता था क्योंकि यहां पर गर्मियों में तापमान बहुत अधिक और सर्दियों में बहुत कम हो जाता है। इस समस्या से बचने के लिए स्थानीय लोगों ने माइनिंग के बाद खाली बची खदानों को अपने ठिकाने के रूप में चुन लिया। अंडरग्राउंड होने की वजह से इन खूबसूरत घरों में गर्मी या सर्दी का ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता। यहां पर लगभग 1500 घर हैं, जिसमें पूरे गांव की आबादी बसी हुई है।