July 1, 2022

छात्र-छात्राओं को प्रेरित करने के लिये सम्मान कार्यक्रम निरन्तर जारी -पूर्व उपाध्यक्ष बिट्टू कर्नाटक

 917 total views,  2 views today

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता /पूर्व उपाध्यक्ष एन.आर.एच.एम. बिट्टू कर्नाटक द्वारा विधानसभा अल्मोडा के विभिन्न कालेजों के छात्रों,शिक्षकों/कर्मचारियों को प्रेरित करने के उद्देश्य से उन्हें सम्मानित किये जाने का कार्यक्रम निरन्तर जारी रखा गया है । आज उनके द्वारा राजकीय इन्टर कालेज अल्मोडा के 155 छात्रों,शिक्षकों/कर्मचारियों को उनका मनोबल बढाने एवं उन्हें शिक्षा के प्रति प्रेरित करने के उद्देश्य से सम्मानित किया गया । इस कार्यक्रम में श्री कर्नाटक ने सभी शिक्षकों /कर्मचारियों तथा छात्रों का स्वागत, अभिनन्दन किया । कार्यक्रम को प्रारम्भ करते हुये उन्होने शिक्षकों /कर्मचारियों को अंगवस्त्र व प्रतीक चिन्ह भेंट किये तथा हाईस्कूल एवं इन्टरमीडिऐट के मेधावी छात्रों को मेडल से सम्मानित करते हुये अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिन्ह प्रदान किया गया ।
 
यह कार्यक्रम हमेशा रहेंगे याद-          

प्रधानाचार्या/उप प्रधानाचार्य ने अपने संवाद में पूर्व उपाध्यक्ष बिट्टू कर्नाटक की प्रशंसा करते हुये कहा कि कोरोना काल में समाज में उनके द्वारा किये गये कार्यो की जितनी भी सराहना की जाय वह कम है । श्री कर्नाटक द्वारा कोरोना काल में जरूरतमंदों को खाद्यान्न उपलब्ध कराकर जहां उन्हें भरण-पोषण में मदद की वहीं युवाओं को नशे से दूर रखने के लिये उन्हें खेलों से जोडा और अब शिक्षकों/विद्यार्थियों को सम्मानित किये जाने का जो कार्यक्रम नियत किये गये हैं वे सदैव याद रखे जायेंगे । उन्होंने कहा कि शिक्षक ही नहीं अपितु विद्यार्थी भी इस सम्मान से अति उत्साहित हैं और इससे उनका मनोबल बढा है । जिसके लिये वे श्री बिट्टू कर्नाटक का आभार व्यक्त करते हैं कि उन्होंने समाज को एक नई दिशा दी है ।
            
विद्यार्थियों तक आनलाईन शिक्षा पहुचाने के लिये गुरूजनों का है बहुत बड़ा त्याग व मेहनत-

श्री कर्नाटक ने अपने सम्बोधन में कहा कि कोरोना महामारी में आनलाईन शिक्षा एक चुनौती थी जिसे विद्यार्थियों के भविष्य के लिये शिक्षकों ने स्वीकार किया और विद्यार्थियों तक आनलाईन शिक्षा पहुचाने के लिये गुरूजनों का बहुत बडा त्याग व मेहनत है । पहले गुरूओं ने स्वयं आनलाईन तकनीक को सीखा फिर आन -लाईन शिक्षा से विद्यार्थियों को जोडा। एक ओर सभी संक्रमण के खतरे से आंशंकित थे दूसरी ओर शिक्षा संचालन के लिये आनलाईन पद्वति अपनाने पर जोर था । इन्टरनेट कनेक्टिविटी समस्या ,जरूरी बुनियादी सुविधाओं का अभाव था, तदपुरान्त भी गुरूओं ने कोरोना काल में अपने परिवार को संभालने तथा छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुये आन-लाईन पढाई कराकर अथक परिश्रम किया है।                        
उन्होंने छात्रों को सम्बोधित करते हुये कहा कि विद्यार्थियों ने आन-लाईन पढाई कर बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर अपने गुरूओं तथा अपने माता पिता के गौरव को बढाया है । उन्हेांने कहा कि मेहनत कर सफलता अर्जित करने में छात्रों की कडी मेहनत दिखाई दी । मेहनत,लगन और उचित मार्गदर्शन से सफलता अवश्य मिलती है। विद्यार्थियों में लक्ष्य प्राप्ति के लिये स्वयं पर विश्वास होना भी जरूरी है । लक्ष्य प्राप्ति ओर सफलता के लिये निरन्तर मेहनत और एकाग्रता,आत्मविश्वास बेहद जरूरी है । उन्होंने विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुये कहा कि एकाग्रचित्त होकर लक्ष्य निर्धारण के साथ पढें तो आपको हर काम पर सफलता मिलेगी और चरित्रवान बनकर आप समाज में एक अच्छा मुकान हासिल कर पायेंगे ।
        
विद्यार्थियों में पढाई के प्रति उन्हें प्रेरित करने एवं उनके मनोबल को बढाना है-

उन्होंने अपने संवाद में कहा कि यह सम्मान कार्यक्रम आयोजित किये जाने का लक्ष्य मात्र विद्यार्थियों में पढाई के प्रति उन्हें प्रेरित करने एवं उनके मनोबल को बढाना है ताकि आगामी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में वे और अधिक श्रेष्ठ मुकान हासिल कर सकें ।

यह लोग रहे उपस्थित-        

इस अवसर पर मुख्य रूप से मनीष तिवारी जिलाध्यक्ष सेवादल,गौरव अवस्थी नगर अध्यक्ष सेवादल, हर्षिता तिवारी नगर अध्यक्ष सेवादल ग्राम प्रधान मटेला अधार गौरव काण्डपाल,रश्मि काण्डपाल नगर उपाध्यक्ष सेवादल,डा.करन कर्नाटक,हेम चन्द्र जोशी,देबेन्द्र प्रसाद कर्नाटक,शुभम जोशी,कु.किरन कोरंगा,कु.दिव्या पाटनी,मीना भट्ट,सुनीता बगडवाल,अंजलि राठौर,प्रकाश मेहता, अजय बिष्ट, बिट्टू बिष्ट,रोहित बिष्ट आदि उपस्थित रहे।