October 23, 2021

अंतरिक्ष यात्रा पर जाएगी भारत की एक और बेटी सिरिशा बांदला, इस दिन न्यू मैक्सिको से होगी उड़ान

 2,724 total views,  2 views today

भारत से जुड़ी अच्छी खबर सामने आई है। कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स के बाद अब भारतीय मूल की तीसरी महिला सिरिशा बांदला अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरने वाली है। कल्पना चावला के बाद वह भारत में जन्मीं दूसरी ऐसी महिला हैं, जो अंतरिक्ष में जाएंगी। वही वह अंतरिक्ष में जाने वाली चौथी भारतीय होंगी।

11 जुलाई को न्यू मैक्सिको से होगी उड़ान-

भारत की बेटी सिरिशा बांदला अंतरिक्ष की उड़ान भरने वाली है। जिसमें अमेरिकी अंतरक्षियान कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक के रिचर्ड ब्रेनसन समेत छह लोग अंतरिक्ष की यात्रा करने जाएंगे।इन्हीं छह लोगों में भारतीय मूल की सिरिशा बांदला का नाम भी शामिल है। इस यात्रा में सिरिशा के अलावा एक अन्य महिला बेश मोसिस भी शामिल हैं। इनकी ये उड़ान 11 जुलाई को न्यू मैक्सिको से होगी। जिसमें सिरिशा का काम रिसर्च से संबंधित होगा।

आंध्र प्रदेश में हुआ है जन्म-

सिरिशा बांदला आंध्र प्रदेश के गुंटूर की रहने वाली हैं। सिरिशा बांदला का जन्म भारत के आंध्र प्रदेश में गुंटूर जिले में हुआ था और वह टेक्सास के ह्यूसटन में पली बढ़ी हैं।

एरोनॉटिकल इंजीनियर है सिरिशा बांदला-

सिरिशा बांदला एरोनॉटिकल इंजीनियर है। जिनकी उम्र 34  है। सिरिशा बांदला ने इंडियाना के पर्ड्यू विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन किया है। उसके बाद सिरिशा बांदला ने जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी से एमबीए की डिग्री ली है। सिरिशा बांदला फिलहाल वर्जिन ऑर्बिट के वॉशिंगटन ऑपरेशंस का कार्यभार देख रही है। वही सिरिशा बांदला तेलुगू एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका से भी जुड़ी हुई है। जिसके लिए कुछ साल पहले सिरिशा बांदला को यूथ स्टार अवॉर्ड से भी नवाजा गया था। इसके अलावा सिरिशा बांदला अमेरिकन एस्ट्रोनॉटिकल सोसाइटी एंड फ्यूटर स्पेस लीडर्स फाउंडेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में शामिल हैं। साथ ही वह पर्ड्यू यूनिवर्सिटी के यंग प्रोफेशनल एडवाइजरी काउंसिल की सदस्य हैं।