November 29, 2021

गोली लगने से माॅडल की हुई मौत, 5 दिन पहले बेटी के सामने अज्ञात हमलावरों ने मारी थी गोली

 1,995 total views,  2 views today

बिहार की राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आई है। चर्चित मॉडल मोना राय की रविवार को मौत हो गई। वह पिछले 5 दिन से अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही थीं। बता दें कि जिस मॉडल को बदमाशों ने गोली मारी, उनका पूरा नाम नाम अनीता देवी उर्फ़ मोना रॉय है। वह मोना 36 साल की थीं। वह मिसेज बिहार की रनर अप रह चुकी हैं। 2006 में अनीता की शादी सुमन कुमार के साथ हुई थी। पति कैनन कंपनी के डीलर के यहां सेल्समैन के रूप में कार्यरत हैं। वहीं मॉडल मॉडलिंग के साथ-साथ सोशल मीडिया पर अपने वीडियो शूट करके शेयर करती थी। मोना रॉय मूल रूप से बिक्रमगंज की रहने वाली थीं और दो बच्चों की मां थी।

अज्ञात हमलावरों ने मारी गोली

बीते मंगलवार को अज्ञात हमलावरों ने उनको गोली मार दी थी। वह गोली उनकी कमर में जा फंसी थी। घटना को इतना समय होने के बाद भी पुलिस अभी तक किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। जिससे पता चलता कि आखिर किस कारण से मॉडल की हत्या की है। दरअसल, यह घटना पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र के रामनगरी मोड इलाके में मंगलवार रात को घटी थी। जहां कुछ बदमाश बाइक से आए और मॉडल मोना राय पीछे से उनकी बेटी के सामने गोली मारकर फरार हो गई। शुरूआती जांच में यह मामला लव अफेयर का लग रहा था। रात 12 बजे के आसपास मॉडल मेले से घूमकर अपने घर लौटी थीं। वह इस बीच उन्होंने अपनी 12 साल की बेटी को अंदर भेजने के बाद अपनी स्कूटी रख रही थीं। इसी दौरान एक बाइक से दो बदमाश आए और उनको कमर में गोली मार कर भाग गए। चीखने की आवाज सुनकर मौके पर भीड़ लग गई।आनन-फानन में घायल मोना को हॉस्पिटल में एडमिट किया गया। लेकिन उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। लगातार हालत बिगड़ती जा रही थी। डॉक्टरों का कहना है कि गोली पेट के हिस्‍से में लगी थी, जिससे लिवर और किडनी को नुकसान काफी ज्यादा हुआ है। तमाम कोशिशों के बाद भी मोना ने रविवार की तड़के चार बजे दम तोड़ दिया।इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया, वहीं इस हाईप्रोफाइल गोली कांड के पीछे एक बिल्डर की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है। फिलहाल पुलिस सभी से पूछताछ करने में लगी है। मामले की जांच कर रहे राजीव नगर थानेदार सरोज कुमार ने प्रेम-प्रसंग में महिला पर फायरिंग करने की आशंका जाहिर की है। पुलिस ने आरोपियों तक पहुंचने के लिए आसपास के सभी बदमाशों से पूछताछ की। लेकिन अभी तक असली वजह और आरोपी पकड़ में नहीं आ सका है।