October 16, 2021

कोरोना वायरस के नए-नए वैरिएंट बन रहे मुसिबत, डेल्टा वैरिएंट के बाद कप्पा वैरिएंट ने दी अपनी दस्तक

 3,068 total views,  5 views today

भारत में 2020 में कोरोना वायरस ने अपनी दस्तक दी। जिसके बाद यह वायरस विकराल होता गया और लोगों में कहर बनकर टूटा। जिसके बाद 2021 में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अपना इस कदर तांडव मचाया कि अभी भी लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। जहां एक ओर कोरोना संक्रमण का असर कम होने लगा है वही दूसरी ओर कोरोना वायरस के नए-नए वैरिएंट भी मुसीबत बने हुए हैं।

भारत में अब कप्पा वायरस ने दी अपनी दस्तक-

भारत में कोरोना की तीसरी लहर का भय बना हुआ है। अभी से तीसरी लहर को रोकने के लिए तैयारियां शुरू हो गई है। वही इसी बीच कप्पा वायरस ने अपनी दस्तक दे दी है।

उत्तरप्रदेश में मिला कप्पा वायरस-

उत्तर प्रदेश में जीनोम सीक्वेंसिंग के दौरान दो नमूनों में वायरस के ‘कप्पा’ स्वरूप की पुष्टि हुई है। विगत दिनों केजीएमयू (किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय) में 109 नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गई। जिसमें 107 नमूनों में कोविड की दूसरी लहर में सामने आए डेल्टा वायरस की ही पुष्टि हुई है, जबकि दो नमूनों में वायरस का कप्पा स्वरूप पाया गया है।

डेल्टा वायरस की तरह ही है कप्पा वायरस के लक्षण-

कप्पा वायरस भी डेल्टा वायरस की तरह बी.1.617 लीनेज का वायरस है। कप्पा वायरस को बी.1.617.1 और डेल्टा को बी.1.617.2 के वैज्ञानिक नाम से पहचाना जाता है। कप्पा वायरस के लक्षण भी खांसी, बुखार, गले में खराश जैसे प्राथमिक लक्षण हैं। इसके बाद अन्य लक्षण कोरोना वायरस के पूर्व के वैरिएंट की तरह ही हैं।