May 22, 2022

उत्तराखंड: कोरोना महामारी के बीच एक 26 वर्षीय युवक ने 100 बच्चों को लिया गोद

 4,874 total views,  2 views today

देश में जबसे कोरोना वायरस ने अपनी दस्तक दी, तभी से ही देश के हालात खराब होते गए हैं। वही 2021 में जब कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर लोगों पर कहर बनकर टूटी, तो बहुत से लोगों परिवार बिखर गए। छोटे छोटे बच्चे अनाथ हो गए। जिनके सिर से माँ-बाप का साया छीन गया। वही परिजनों के ना होने पर उन बच्चों की देखभाल अब अनाथालयों द्वारा की जा रही है। वही जिनके लिए सरकार ने भी योजनाएं शुरू की है। वही दूसरी लोग कुछ लोग भी मानवता का फर्ज निभाते हुए अनाथ हुए बच्चों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। जिसमें एक नाम समाजसेवी जय शर्मा का भी शामिल हैं।

100 बच्चों को गोद लेने की दिशा में आगे बढ़ रहा है एनजीओ-

समाजसेवी जय शर्मा एक एनजीओ के संस्थापक हैं। जिसमें उनके एनजीओ ने अपने अधिकारिक फेसबुक पेज के लिए घोषणा की है कि वह ऐसे 100 बच्चों को गोद लेने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। इससे पहले यह एनजीओ 20 की देखभाल का जिम्मा उठा रहा है। जय शर्मा की यह एक सराहनीय पहल है। जिन्होंने ऐसे ही कुछ बच्चों की ज़िंदगी में एक बार फिर से रोशनी लाने का बेहद सराहनीय प्रयास किया है।

एनजीओ तब तक इन बच्चों की देखभाल करेगी, जब तक वह आत्मनिर्भर नहीं बन जाते-

26 वर्षीय जय शर्मा देहरादून के रहने वाले है। जय शर्मा ने अनाथ हुए 100 बच्चों को गोद लेने का जिम्मा उठाया है। जिन्होंने कोरोना महामारी के चलते अपने परिवार को खो दिया। जिसमें यह अनाथ बच्चें उत्तरकाशी, जोशीमठ, रुद्रप्रयाग और देहरादून जिलों से हैं। एनजीओ तब तक इन बच्चों की देखभाल का जिम्मा उठाएगी, जब तक यह बच्चें बड़े होकर आत्मनिर्भर नहीं बन जाते।

एनजीओ कोरोना काल में जरूरतमंदों की करता आया है सेवा-

जय शर्मा का एनजीओ कोरोना महामारी के दौरान भी लगातार जरूरतमंदों की मदद कर रहा है, जिसमें हर जरूरतमंदों की हरसंभव मदद दी जा रही है।