August 16, 2022

प्रधानमंत्री: नयी शिक्षा नीति में खेलों को एक्स्ट्रा करिकुलर’ के बजाय बनाया गया मेनस्ट्रीम

 3,196 total views,  2 views today

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए विकसित, समृद्ध, आत्मनिर्भर और समावेशी भारत के निर्माण में देशवासियों से सहयोग का आह्वान करते हुए कहा कि सबका-साथ-सबका विकास-सबका विश्वास और सबके प्रयास से इस लक्ष्य को प्राप्त करना है।

NEP में खेल को बनाया मेनस्ट्रीम

प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से अपने संबोधन में नई ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति’ का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें खेल को ‘एक्स्ट्रा करिकुलर’ के बजाय मेनस्ट्रीम बनाया गया है, वहीं मातृभाषा की प्राथमिकता पर जोर दिया गया है।

गरीबी के खिलाफ लड़ाई में बड़ा शस्त्र

उन्होंने कहा कि भाषा के कारण देश की बड़ी प्रतिभा को पिंजरे में बांध दिया है लेकिन भाषा कभी विकास में रुकावट नहीं बननी चाहिए। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति भी गरीबी के खिलाफ लड़ाई में बड़ा शस्त्र बनकर सामने आने वाला है, क्योंकि इसमें लोगों की प्रतिभा को जगह दी गई है।’

खेलकूद को लेकर मां-बाप की बदली है धारणा

खेलकूद की बात करते हुए उन्होंने कहा कि पहले मां-बाप बच्चों से कहते थे कि खेलते रहोगे तो जीवन बर्बाद कर लोगे, लेकिन अब यह सोच बदल रही है। इस बात का अनुभव इस बार के ओलंपिक में भी हमने किया है। उन्होंने खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ा कर उसे तकनीक से जोड़ने पर बल दिया।